ना कोई कागज़ी कार्यवाही ना ही कोई टेंडर,नगर निगम के सामने मुख्य सड़क में भ्र्ष्टाचार का खेल!

ध्यान से पढ़िए औऱ देखिए.....

हिमालय मुखर्जी ब्यूरो चीफ रायगढ़

ना कोई कागज़ी कार्यवाही ना ही कोई टेंडर शहर की छाती में नगर निगम के सामने मुख्य सड़क में भ्र्ष्टाचार का खेल…
पूरा शहर खुदा हुआ है,अस्त व्यस्त है,परन्तु इन दिनों स्वच्छता सर्वेक्षण होना है,इस लिये शहर में बेतरतीब तरीके से थूक पालिका का कार्य जैसे रंग रोगन,कलाकृति आदि देखने मिलेगी।

इसी कड़ी में सर्वेक्षण की आड़ लेते हुए, जबरदस्त भ्रस्टाचार की तैयारी है,शहर की छाती में देखिए डिवाइडर लगा कर निर्माण कराया जा रहा है..ना कोई कागज़ी कार्यवाही ना ही कोई टेंडर,नगर निगम के सामने मुख्य सड़क में भ्र्ष्टाचार का खेल!

इस निर्माण की खासियत यह है कि ना तो कागज़ में इसकी कोई योजना बनी है,ना ही कोई ठेका हुआ है,न ही कोई मद है,महोदया द्वारा औऱ प्रभारी द्वारा उक्त कार्य एडवांस में करा दवाव पूर्ण तरीक़े से अपने चहेते ठेकेदार को कम दर में दिला शासन के राजस्व का नुक़सान करा अपनी झोली भरने की तैयारी है।

सोचने की बात यह है कि आखिर विपक्ष की इनसे ऐसी कौन सी सेटिंग है,जो वह यह सारे कारनामे आँख बंद कर के देख रही है,निगम के ठेकेदार भी इस तरह की अराजकता को कैसे झेल रहे है ईश्वर ही जाने….

कार्य हो अच्छी बात है लेकिन सेटिंग में महोदया लाखों का बिल एक का दस निकलवा दे यह अच्छी बात नही है,औऱ छोटे मोटे कार्यो के फंड का रोना रोना यह अच्छी बात नही है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button