अफगानिस्तान के खिलाफ टेस्ट का हिस्सा नही कोहली, फैंस हुए हेरान

नई दिल्ली । विराट कोहली 14 जून से अफगानिस्तान के खिलाफ बेंगलुरु में खेले जाने वाले एकमात्र टेस्ट मैच में हिस्सा नहीं लेंगे। भारतीय कप्तान इस दौरान इंग्लैंड में जाकर सरे की टीम के लिए काउंटी क्रिकेट खेलने का फैसला लिया है।

कोहली ने ये फैसा इंग्लैंड में अपने खराब प्रदर्शन को देखते हुए लिया है। इंग्लैंड की धरती पर टीम इंडिया के इस धुंरधर बल्लेबाज का प्रदर्शन काफी फीका रहा है। कोहली ने इंग्लैंड में 5 टेस्ट खेलकर 13.40 की औसत से सिर्फ 134 रन बनाए हैं।

भारत को इस साल भी इंग्लैंड का दौरा करना है। इस दौरे पर टीम इंडिया को 5 टेस्ट, 3 वनडे और 3 टी20 मैच खेलने हैं और मुश्किल चुनौती से पहले कोहली खुद को इसके लिए तैयार कर लेना चाहते हैं। इसी वजह से विराट ने अफगानिस्तान के खिलाफ टेस्ट मैच न खेलने का फैसला कर काउंटी में तैयारियों को मजबूत करने का फैसला किया। यह टेस्ट मैच अफगानिस्तान की टीम का पहला टेस्ट मैच होगा।

अपनी कमज़ोरियों पर काम करेंगे कोहली : टीम इंडिया इंग्लैंड में 1 अगस्त से एजबेस्ट में अपने टेस्ट अभियान की शुरुआत करेगी। पिछली बार इंग्लैंड दौरे पर विराट कोहली का प्रदर्शन काफी खराब रहा था। इसी वजह से कोहली इस बार इंग्लैंड की धरती पर अपने प्रदर्शन में सुधार करने को लेकर पूरी तरह से फोकस हैं।

वहीं, चेतेश्वर पुजारा भी इस दौरान यॉर्कशायर की तरफ से काउंटी क्रिकेट खेल रहे होंगे। जून में सरे की टीम को यॉर्कशायर के खिलाफ भी मैच खेलना है, तो ऐसा भी संभव है कि कोहली और पुजारा एक-दूसरे के खिलाफ इस काउंटी सीजन में खेलते दिखें। काउंटी क्रिकेट के जरिए इंग्लैंड में भारत की तैयारी को लेकर यह अच्छा मौका है।

तीसरे टेस्ट में कोहली ने लिया अनोखा फैसला, दुनिया भी रह गई हैरान : आइपीएल में हिस्सा लेने के बाद कोहली तुरंत ही काउंटी क्रिकेट खेलने रवाना हो जाएंगे। काउंटी की सरे टीम की तरफ से कई महान खिलाड़ी खेले हैं और कोहली इस टीम की ओर से खेलने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी होंगे।

इस काउंटी सीजन की शुरुआत में सरे की टीम को 4 दिवसीय तीन मैच 9 जून से 28 जून के बीच खेलने हैं। सरे को अपने यह मैच हैम्पशायर, समरसेट और यॉर्कशायर के खिलाफ खेलने हैं। माना जा रहा है कि विराट कोहली इन तीनों मैचों के लिए सरे की टीम से खेलने के लिए उपलब्ध रहेंगे।

advt
Back to top button