महात्मा गांधी के देश में किसी भी प्रकार की हिंसा का नहीं हो सकता कोई स्थान : सोनिया

नई दिल्ली: नागरिकता कानून को लेकर नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में सोमवार को जमकर हिंसा हुई. सूत्रों के हवाले से खबर है कि इस हिंसा में अब तक एक पुलिसकर्मी समेत 6 लोग मारे गए हैं.

आईपीएस अफसर एसीपी गोकुलपुरी अनुज कुमार भी पत्थरबाज़ी में घायल हुए हैं. उन्हें मैक्स पटपड़गंज में भर्ती कराया गया है. गंभीर रूप से घायल डीसीपी शाहदरा अमित शर्मा की सर्जरी चल रही है.

वहीँ इस हिंसा को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने ने दिल्ली की जनता से सांप्रदायिक सद्भाव बनाये रखने और देश को धर्म-मज़हब के आधार पर बांटने वाली फ़िरकापरस्त ताक़तों के गलत मंसूबों को विफल करने की अपील की है.

यहां जारी एक वक्तव्य में सोनिया गांधी ने हिंसा में मारे गए हेड कांस्टेबल रतन लाल की मृत्यु पर गहरा शोक व दुःख व्यक्त करते हुए शोक संतप्त परिवार के प्रति अपनी संवेदना भी व्यक्त की.

उन्होंने देशवासियों से आह्वान किया कि किसी भी प्रकार की हिंसा का महात्मा गांधी जी के भारत में कोई स्थान नहीं हो सकता. देश में उन ताक़तों की कोई जगह नहीं जो अपनी सांप्रदायिक और विभाजनकारी विचारधारा को भारतवर्ष पर थोपना चाहते हैं.

Tags
Back to top button