गौरेला पेंड्रा मरवाही जिले में आज तक नहीं मिल सका एक भी वेंटिलेटर

संवाददाता :- सुमित जालान

गौरैल-पेंड्रा-मरवाही :- छत्तीसगढ़ की सबसे चर्चित सीट मरवाही विधानसभा जिसे हाल ही में प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा 10 फरवरी 2020 को जिला बनाने की घोषणा की जो वर्तमान में गौरेला पेंड्रा मरवाही जिले के नाम से जाना जाता है। यह जिला पूर्ण रूप से आदिवासी बाहुल्य छेत्र वाला जिला है, यहाँ के 50% से ज्यादा लोग गांवो में निवास करते है। जिनकी आजीविका का मुख्य साधन कृषि है, अगर जिले की आबादी की बात करे तो सरकारी आकड़ो के अनुसार जिले की जनसंख्या 3,36,420 है।

जिले में अगर विधानसभा की बात करे तो यह जिला 2 विधानसभाओ वाला जिला है इस जिले में मरवाही विधानसभा से कांग्रेस के विधायक डॉ. के.के ध्रुव है, वहीं कोटा विधानसभा से जोगी कांग्रेस के विधायक डॉ. रेणु जोगी है। जिले में दो डॉक्टर विधायक होने के बाद भी जिले में अगर स्वास्थ्य व्यवस्था की बात करे तो आज भी यह जिला बिलासपुर रिफर के भरोसे चल रहा है।

जहां एक ओर पूरा प्रदेश कोरोना वायरस की दूसरी लहर से जूझ रहा है, तो वही गौरेला पेंड्रा मरवाही जिले में भी इसका व्यापाक असर देखने को मिल रहा है। जिले में लगातार कोरोना मरीजो की संख्या में इजाफा देखने को मिल रहा है। जिले में अगर वर्तमान एक्टिव मरीजो की संख्या पर गौर करे तो जिले मै आज तक 1843 कोरोना के एक्टिव मरीज है। जिनका उपचार चल रहा है, कोरोना से मौत की बात करे तो अब तक यहां 28 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है।

मगर आज भी जिला अस्पताल में एक भी वेंटिलेटर ना होने के कारण मरीजो को बिलासपुर रिफर कर दिया जाता है। जिसके कारण मरीजो की मौत या तो रास्ते मे हो जाती है या फिर बड़े शहरों के अस्पताल में जगह नही मिलने के आभाव से मरीज दम तोड़ देता है।

इस विषय पर जब क्लिपर 28 की टीम ने कलेक्टर नम्रता गाँधी से बात की तो उन्होंने बताया कि नया जिला है जिले को स्थापित करने में वक़्त लगता है। वेंटीलेटर के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा ऑर्डर देर दिया गया है। बलरामपुर और जशपुर जिले से एक-एक वेंटीलेटर तीन से चार दिनों ने आ जायेगा, और हम डॉक्टर्स की भी ट्रेनिंग कर्र रहे है, उसको ऑपरेट करने के लीये।

वहीं इस संबंध में मरवाही विधायक के.के. ध्रुव का कहना है कि जिले में वेंटीलेटर की समस्या से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल व स्वास्थ्य मंत्री को अवगत कराया जा चुका है। साथ ही चिट्ठी भी भेजा गया है, जल्द ही जिले को वेंटिलेटर उपलब्ध होगा।

खबर लिखने तक हमने जिले के कोटा विधानसभा से विधायक रेणु जोगी से फ़ोन पर संपर्क करने की कोशिश की लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो पाया है।

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button