अर्थशास्त्र का नोबेल: अभिजीत और उनकी पत्नी दोनों ही MIT में हैं प्रफेसर, गरीबी खत्म करने के लिए दंपती को पुरस्कार

ओस्लो. साल 2019 के लिए अर्थशास्त्र का प्रतिष्ठित नोबेल पुरस्कार भारतीय मूल के अर्थशास्त्री अभिजीत बनर्जी उनकी पत्नी एस्तेय डिफ्लो के साथ-साथ अर्थशास्त्री माइकल क्रेमर को संयुक्त रूप से दिया जाएगा। इन्हें ‘अंतरराष्ट्रीय स्तर पर गरीबी कम करने के उनके प्रयोगात्मक नजरिए’ के लिए नोबेल मिल रहा है। 58 साल के अभिजीत बनर्जी अभी अमेरिका में मैसाचुसेट्स इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नॉलजी में इकनॉमिक्स पढ़ाते हैं।

जेएनयू से पढ़े हैं अभिजीत

अभिजीत ने 1981 में यूनिवर्सिटी ऑफ कलकत्ता से बीएससी के बाद 1983 में जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी से एमए की पढ़ाई पूरी की। इसके बाद 1988 में उन्होंने हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से पीएचडी किया।

वैश्विक गरीबी खत्म करने की दिशा में किया काम

अभिजीत ने ऐसी आर्थिक नीतियों पर रिसर्च किया, जो वैश्विक गरीबी को कम करने में मददगार बनीं। 2003 में उन्होंने एस्तेय डिफ्लो और सेंडहिल मुलैंटन के साथ मिलकर अब्दुल लतीफ जमील पॉवर्टी ऐक्शन लैब (JPAL) की बुनियाद रखी। 2009 में JPAL को डिवेलपमेंट को-ऑपरेशन कैटिगरी में बीबीवीए फाउंडेशन का फ्रंटियर नॉलेज अवॉर्ड मिला।

4 किताबें लिख चुके हैं अभिजीत

अभिजीत बनर्जी आर्थिक मसलों पर तमाम आर्टिकल लिख चुके हैं। वह ‘पुअर इकनॉमिक्स’ समेत 4 किताबें लिख चुके हैं। इस किताब को गोल्डमैन साक्स बिजनस बुक ऑफ द इयर का खिताब मिला था। MIT पर दिए गए उनके परिचय में यह भी बताया गया है कि उन्होंने 2 डॉक्युमेंटरी फिल्मों का निर्देशन भी किया है। वह 2015 के बाद डिवेलपमेंट अजेंडा पर बनी यूएन सेक्रटरी जनरल के हाई-लेवल पैनल में भी रह चुके हैं।

एस्तेय डिफ्लो भी MIT में हैं प्रफेसर

अभिजीत बनर्जी के साथ-साथ उनकी पत्नी एस्तेय डिफ्लो को भी अर्थशास्त्र का नोबेल मिला है। डिफ्लो भी MIT में हैं और पॉवर्टी एलेविएशन ऐंड डिवेलपमेंट इकनॉमिक्स की प्रफेसर हैं। फ्रांसीसी मूल की अमेरिकी अर्थशास्त्री डिफ्लो ने हिस्ट्री और इकनॉमिक्स से ग्रेजुएशन के बाद उन्होंने 1994 में पैरिस स्कूल ऑफ इकनॉमिक्स (तब DELTA नाम से जाना जाता था) से मास्टर डिग्री हासिल की। 1999 में उन्होंने MIT से इकनॉमिक्स में PhD किया। MIT में उन्होंने अभिजीत बनर्जी की देखरेख में ही अपनी PhD पूरी की क्योंकि बनर्जी इसके जॉइंट सुपरवाइजर थे। दोनों में प्रेम हुआ और दोनों एक साथ रहने लगे। 2015 में दोनों ने औपचारिक तौर पर शादी कर ली।

Back to top button