छत्तीसगढ़राजनीति

मरवाही विधानसभा उप निर्वाचन के लिए 16 अक्टूबर अपरांह 3 बजे तक किए जा सकेंगे नाम निर्देशन

17 अक्टूबर को संवीक्षा, 19 अक्टूबर तक होगी नाम वापसी

रायपुर, 09 अक्टूबर 2020 : विधानसभा उपनिर्वाचन-2020 के तहत गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही जिले के मरवाही विधानसभा क्षेत्र के लिए उपनिर्वाचन की अधिसूचना आज जारी कर दी गई तथा अभ्यर्थियों के नाम निर्देशन की प्रक्रिया प्रारंभ हो गई है। 16 अक्टूबर 2020 तक नाम निर्देशन पत्र प्राप्त किए जा सकेंगे तथा 17 अक्टूबर को नाम निर्देशन पत्रों की संवीक्षा होगी। वहीं 19 अक्टूबर तक अभ्यर्थिता से नाम वापस लिए जा सकेंगे।

विधानसभा निर्वाचन-2020

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डोमन सिंह के मार्गदर्शन में विधानसभा निर्वाचन-2020 के तहत मरवाही विधानसभा क्षेत्र में चुनाव संबंधी कार्य सम्पन्न किये जा रहे हैं। इसी कड़ी में भारत निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों के अनुरूप आज मरवाही विधानसभा उपनिर्वाचन की अधिसूचना जारी कर दी गई है।

जारी अधिसूचना के अनुसार विधानसभा क्षेत्र-24 मरवाही के विधानसभा उपचुनाव की अभ्यर्थिता हेतु आगामी 16 अक्टूबर 2020 (सार्वजिनक अवकाश को छोड़कर) तक नाम निर्देशन पत्र प्राप्त किए जा सकेंगे। नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने का समय प्रतिदिन प्रातः 11 बजे से दोपहर 3 बजे तक रहेगा। 17 अक्टूबर को प्राप्त नाम निर्देशन पत्रों की संवीक्षा की जाएगी। अभ्यर्थियों द्वारा 19 अक्टूबर तक अपनी अभ्यर्थिता वापस ली जा सकेगी।

3 नवंबर को होगा मतदान- विधानसभा उपनिर्वाचन-2020 के तहत 3 नवंबर 2020 को मतदान होगा तथा मतदान का समय प्रातः 8 बजे से सायं 6 बजे तक रहेगा।

यहां होंगे नामांकन- विधानसभा उपनिर्वाचन-2020 हेतु नाम निर्देशन की प्रकिया आज से प्रारंभ हो गई है। नामनिर्देशन-पत्र रिटर्निंग ऑफिसर कलेक्टर, गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही को या अजीत वसंत, अपर कलेक्टर, गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही, सहायक रिटर्निंग ऑफिसर को अभ्यर्थी या (उसके किसी प्रस्थापक द्वारा) 16 अक्टूबर 2020 (शुक्रवार) से अपश्चात् (लोक अवकाश दिन से भिन्न) किसी दिन 11 बजे पूर्वान्ह और 3 बजे अपरान्ह के बीच न्यायालय कलेक्टर कक्ष, कलेक्टोरेट, गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही में परिदत्त किए जा सकेंगे। नामनिर्देशन-पत्र के प्रारूप पूर्वोक्त स्थान और समय पर अभिप्राप्त किए जा सकेंगे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button