राष्ट्रीय

कड़ाके की ठंड में उत्तर भारत, मौसम विभाग ने जारी किया रेड अलर्ट

कई इलाकों में न्यूनतम तापमान 1.7 डिग्री सेल्सियस

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के कई इलाकों में न्यूनतम तापमान 1.7 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया। लोकल बसों में यात्री कम दिखे। ठंड से कांपते हुए पहुंचे लोगों को बंद मेट्रो में थोड़ी राहत मिली। कोहरे के कारण दृश्यता कम होने से सड़कों पर वाहन रेंगते रहे। ट्रेनें घंटों विलंब से चल रही हैं और हवाई यातायात प्रभावित हुआ है।

मैदानी राज्यों उत्तर प्रदेश, बिहार, पंजाब, हरियाणा, मध्यप्रदेश, झारखंड व राजस्थान के अधिकांश हिस्सों में मौसम के कारण जनजीवन प्रभावित हुआ है। हिसार में छह वर्ष में दूसरी बार न्यूनतम तापमान शून्य से भी नीचे चला गया।

राजस्थान के पांच शहरों फतेहपुर, माउंट आबू, जोबनेर, सीकर और चुरू में न्यूनतम तापमान जमाव बिंदु से नीचे आ गया। फतेहपुर में माइनस चार डिग्री दर्ज किया गया। माउंट आबू में बर्फ की परत जमी हुई है। ओडिशा और छत्तीसगढ़ के अधिकांश हिस्सों में ठंड की स्थिति बनी रही।

जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में हाड़ कंपाने वाली ठंड ने बेहाल कर रखा है। श्रीनगर में तापमान के जमाव बिंदु से नीचे बने रहने के चलते डल झील समेत अधिकांश जलस्त्रोत जम गए हैं। हिमाचल प्रदेश में छह स्थानों केलंग, कल्पा, मनाली, कुफरी, सुंदरनगर व सोलन में तापमान जमाव बिंदु से नीचे है।

लाहुल स्पीति में स्पीति नदी और किन्नौर में सतलुज नदी में पानी कुछ स्थानों पर जम गया है। कुफरी, मनाली, सोलन, भुंतर, सुंदरनगर समेत कई जगहों पर न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे चला गया है। उत्तराखंड के छह शहरों में पारा दो डिग्री सेल्सियस से नीचे बना हुआ है।

Tags
Back to top button