अंतर्राष्ट्रीय

नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन ने एक बार फिर की शक्ति का प्रदर्शन

इस बार उन्होंने अमेरिका के खिलाफ कोई भड़काऊ बात नहीं कही

नॉर्थ कोरिया:एक बार फिर दुनिया के सामने अपनी शक्ति का प्रदर्शन करते हुए नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन ने पहले ना देखे गए टैंकों से लेकर विशालकाय बैलिस्टिक मिसाइल से एक बार फिर दुनिया का ध्यान अपनी ओर खींचने की कोशिश की है। हालांकि, इस बार उन्होंने अमेरिका के खिलाफ कोई भड़काऊ बात नहीं कही है।

माना जा रहा है कि वह प्रतिबंधों को लेकर अमेरिका पर दबाव बढ़ाना चाहते हैं, लेकिन अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप या प्योंगयांग के साथी चीन के साथ रिश्ते खराब नहीं करना चाहते हैं। हेरीटेज फाउंडेशन में सीआईए नॉर्थ कोरिया एनालिस्ट ब्रूस क्लिंगनेर ने कहा, ”किम जोंग उन का भाषण अमेरिका को धमकाने वाला नहीं था, बल्कि उन्होंने नॉर्थ कोरिया के परमाणु हथियारों को सेल्फ डिफेंस के लिए बताया।”

उन्होंने कहा, ”स्पष्ट संदेश यह है कि अमेरिकी दावों के विपरीत नॉर्थ कोरिया का परमाणु खतरा खत्म नहीं हुआ है।” सैन्य विश्लेषकों का कहना है कि परेड के वीडियो में एक विशाल अंतरमहाद्वीपीय बलिस्टिक मिसाइल (ICBM) को देखा जा सकता है, जो संभवत: अधिक घातक है। इसमें एक से अधिक वारहेड और ज्यादा पेलोड की क्षमता है। इसके अलावा बड़े मिसाइल कैरियर्स, नेक्स्ट जेनरेशन सबमरीन मिसाइल और परंपरागत हथियारों के नए वर्जन भी परेड में शामिल किए गए।

परेड में जिस हथियार ने सबसे अधिक ध्यान खींचा वह है अंतरमहाद्वीपीय बलिस्टिक मिसाइल, जोकि बेहद विशाल है और पहले नहीं देखा गया था। इसे इतने ही बड़े एक ट्रांसपोर्टर इरेक्टर लॉन्चर (TEL) वाहन पर सेट किया गया था।

सैन्य विश्लेषकों का कहना है कि 25 से 26 मीटर लंबा और करीब 2.5 से 2.9 मीटर व्यास का अज्ञात मिसाइल दुनिया का सबसे बड़ा रोड-मोबाइल ICBM होगा। इससे पहले नॉर्थ कोरिया का सबसे बड़ा मिसाइल Hwasong-15 था, जिससे अमेरिका में किसी भी स्थान को निशाना बनाया जा सकता है। ओपन न्यूक्लियर नेटवर्क के डेप्युटी डायरेक्टर मेलिसा हनहम ने कहा कि नए ICBM के लिए सबसे अधिक संभावित व्यावहारिक उपयोग कई वारहेड ले जाने की क्षमता होगी।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button