BJP उम्मीदवार प्रज्ञा ठाकुर को नोटिस जारी, करकरे पर दिया था विवादित बयान

भोपाल। निर्वाचन आयोग 26/11 के मुंबई आतंकी हमले (Mumbai Terror Attack) में शहीद हुए पुलिस अधिकारी हेमंत करकरे (Hemant Karkare) के बारे में दिये गये विवादित बयान पर भोपाल लोकसभा सीट से बीजेपी की उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर (Pragya Singh Thakur) को कारण बताओ नोटिस जारी किेया गया है। यह नोटिस जिला चुनाव अधिकारी और कलेक्टर द्वारा जारी किया गया है।

29 सितंबर, 2008 को मालेगांव में हुये बम धमाकों के मामले में प्रज्ञा आरोपी हैं और तकरीबन 9 साल जेल में रही हैं। इस बहुचर्चित मामले में वह इन दिनों जमानत पर चल रही हैं। जिला निर्वाचन अधिकारी एवं भोपाल कलेक्टर सुदाम खाड़े ने ‘पीटीआई-भाषा’ को शनिवार को बताया था, ”हमने इस बयान पर स्वत: संज्ञान लिया है और इस मामले में सहायक निर्वाचन अधिकारी से रिपोर्ट मांगी है। हम इस कार्यक्रम के आयोजक एवं उस व्यक्ति के खिलाफ जिसने यह बयान दिया है, के खिलाफ आज नोटिस जारी करने जा रहे हैं और उनसे 24 घंटे में जवाब मांगेंगे।

उन्होंने कहा, ‘हम सहायक निर्वाचन अधिकारी की रिपोर्ट को निर्वाचन आयोग को भेजेंगे। खाड़े ने बताया कि हमने आचार संहिता के दौरान इस कार्यक्रम के आयोजक को कुछ शर्तों पर कार्यक्रम करने की अनुमति दी थी।’ बृहस्पतिवार शाम को भोपाल उत्तर विधानसभा क्षेत्र के भाजपा कार्यकर्ताओं की बैठक में मुम्बई एटीएस के तत्कालीन प्रमुख हेमंत करकरे पर जेल में यातना देने का आरोप लगाते हुए प्रज्ञा ने कहा था कि मैंने करकरे का सर्वनाश होने का श्राप दिया था और इसके सवा माह बाद आतंकवादियों ने उन्हें मार दिया। हालांकि, इस बयान के एक दिन बाद चारों तरफ से आलोचना होने के बाद प्रज्ञा ने अपना बयान वापस ले लिया था और माफी भी मांग ली थी।

Back to top button