शिक्षाकर्मियों की सेवा गणना में गड़बड़ी, हाईकोर्ट का राज्य सरकार को नोटिस

बिलासपुर।

प्रदेश में शिक्षाकर्मियों के संविलियन में सेवा गणना को लेकर काफी शिकायतें आ रही हैं। इस मामले में डोंगरगढ़ के एक शिक्षाकर्मी ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी जिसके मद्देनजर कोर्ट ने आज राज्य सरकार को इस संबंध में नोटिस जारी किया है।

इस याचिका पर हाईकोर्ट ने सरकार को नोटिस जारी कर उनसे जवाब तलब किया है। शिक्षाकर्मी ने वर्ष गणना को त्रुटिपूर्ण बताते हुए हाईकोर्ट में याचिका दायर की है।

याचिकाकर्ता के अनुसार उसने 2008 में डोंगरगढ़ जनपद पंचायत में शिक्षाकर्मी बने। बाद में 2011 में उन्होंने नगर पंचायत डोंगरगढ़ में शिक्षाकर्मी पद पर चयनित होकर अपना योगदान दिया। लेकिन जब संविलियन की बारी आई तो प्रशासन ने वर्ष की गणना संविलियन अवधि 8 साल नहीं मानी।

जबकि उसकी कुल अवधि 10 साल हो चुके हैं। याचिकाकर्ता ने कोर्ट में षिकायत की है कि सरकार की तरफ से नियमों का अड़गा बताकर उनकी सेवा गणना सिर्फ 2011 से की जा रही है, जबकि उनकी गणना 2008 से होनी चाहिये। मामला हाईकोर्ट में जाने के बाद कोर्ट ने शासन को नोटिस जारी किया है।

Tags
Back to top button