आचार संहिता उल्लंघन के मामले में योगी आदित्यनाथ और मायावती को नोटिस जारी

आयोग ने उनसे शुक्रवार की शाम तक जवाब देने को कहा

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को मौजूदा चुनाव प्रक्रिया के दौरान आचार संहिता के उल्लंघन का दूसरा नोटिस जारी किया गया है. उनके खिलाफ मेरठ में एक रैली के दौरान ‘अली’ और ‘बजरंग अली’ वाली टिप्पणी करने को लेकर कारण बताओ नोटिस जारी किया है.

इस बीच आयोग ने मायावती को देवबंद में एक रैली के दौरान मुस्लिम मतदाताओं को कांग्रेस के बजाय सपा बसपा रालोद गठबंधन को वोट देने की अपील की शिकायत पर भी नोटिस जारी किया है. आयोग ने नोटिस में मायावती के बयान से प्रथम दृष्टया आचार संहिता का उल्लंघन होने की बात कहते हुये उनसे 24 घंटे में जवाब देने को कहा है.

नोटिस के अनुसार आयोग ने माना कि प्रथम दृष्टया योगी ने चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन किया है. आयोग ने उनसे शुक्रवार की शाम तक जवाब देने को कहा है. योगी ने लोकसभा चुनावों की तुलना इस्लाम में अहम शख्सियत ‘अली’ और हिंदू देवता ‘बजरंगबली’ के बीच मुकाबले से की थी. बीजेपी नेता ने कहा था, “अगर कांग्रेस, सपा, बसपा को अली पर विश्वास है तो हमें भी बजरंग बली पर विश्वास है.”

योगी ने देवबंद में बसपा प्रमुख मायावती के उस भाषण की तरफ इशारा करते हुए यह टिप्पणी की थी जिसमें मायावती ने मुस्लिमों से सपा-बसपा गठबंधन को वोट देने की अपील की थी.

Back to top button