अब रेल में AC का सफर होगा सस्ता, रेलवे कर रहा है तैयारी

रेलवे बोर्ड के अधिकारियों के अनुसार सबसे अधिक कोच इंटीग्रल कोच फैक्‍ट्री (ICF) द्वारा तैयार किए जा रहे हैं।

दिल्ली: भारतीय रेल इस साल कई मेल और एक्‍सप्रेस ट्रेनों में सस्‍ते किराए वाले 806 इकोनॉमी एसी 3 टियर कोच लगाएगा। रेल मंत्रालय विभिन्‍न कोच फैक्ट्रियों में इकोनॉमी एसी 3 टियर कोच तैयार करवा रहा है। जैसे-जैसे कोच तैयार होते जाएंगे, वैसे-वैसे समयानुसार ट्रेनों में जुड़ते जाएंगे। रेलवे बोर्ड के अधिकारियों के अनुसार सबसे अधिक कोच इंटीग्रल कोच फैक्‍ट्री (ICF) द्वारा तैयार किए जा रहे हैं।

एंटीग्रल कोच फैक्‍ट्री बनाएगी सबसे अधिक कोच

रेलवे मंत्रालय, यात्रियों को सस्‍ते किराए में एसी क्‍लास में सफर कराने के लिए ये सब कर रहा है। इसके लिए इकोनॉमी एसी 3 टियर कोच तैयार कराए जा रहे हैं। ये कोच सामान्‍य एसी 3 टियर कोच जैसे ही होंगे। योजना के तहत कुछ कोच तैयार कर ट्रेन में लगाने की शुरुआत हो चुकी है। अब वित्‍तीय वर्ष 2021-22 के लिए 806 कोच तैयार करने का लक्ष्‍य रखा गया है। एंटीग्रल कोच फैक्‍ट्री (ICF) में 344, रेल कोच फैक्‍ट्री (RCF) में 177 और मॉडर्न कोच फैक्‍ट्री (MCF) में 285 कोच बनाए जा रहे हैं। बोर्ड के अधिकारी के अनुसार मार्च 2021 तक सभी कोच ट्रेनों में लगा दिए जाएंगे। इसके अलावा बोर्ड से स्‍वीकृति के बाद और भी इकोनॉमी एसी कोच बनाए जाएंगे।

एक कोच में 72 की जगह अब 83 बर्थ की सुविधा

इन कोचों में सामान्‍य एसी 3 टियर कोच की तुलना में सफर सस्‍ता होगा। रेलवे अधिकारियों के अनुसार इकोनॉमी एसी कोच में बर्थ की संख्‍या अधिक है। सामान्‍य एसी 3 टियर कोच में 72 बर्थ होती हैं, जबकि इसमें 11 अधिक यानि 83 बर्थ होंगी। इसके लिए रेलवे ने सीटों के बीच का गैप थोड़ा कम कर दिया गया है। अधिकारियों के अनुसार गैप कम होने से यात्रियों को असुविधा नहीं होगी। इसके अलावा साइड की बर्थ की लंबाई पहले जैसी ही रखी गई है।

ये सुविधाएं हैं खास

इकोनॉमी एसी 3 टियर कोच में रीडिंग के लिए पर्सनल लाइट, एसी वेंट्स, यूएसबी प्‍वाइंट, मोबाइल चार्जिंग प्‍वाइंट, ऊपरी बर्थ पर चढ़ने के लिए बेहतर सीढ़ी और खास तरह का स्‍नैक टेबल हैं। इसके साथ ही टॉयलेट में फुट ऑपरेटिंग टैब लगाए गए हैं।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button