अब देशभर में एक ही नंबर से मिलेगी रेलवे की सभी मदद

बिलासपुर।

अब ट्रेन में सफर के दौरान किसी तरह की समस्या होने पर हेल्पलाइन नंबर को लेकर दिक्कत नहीं होगी। इनके लिए देशभर में केवल एक नंबर होगा। इस पर फोन करने पर रेलवे से मदद मिल जाएगी। इसके लिए रेलवे बोर्ड ने क्रिस को निर्देश दिए हैं। साथ ही सभी जोन को जानकारी भेजी गई है।

सफर के दौरान यात्रियों की सुविधा को लेकर रेलवे बेहद गंभीर रहती है। इसके लिए हर सुविधा के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है।

यात्री उसमें अपनी शिकायत दर्ज कराने के अलावा मदद प्राप्त कर सकते हैं। गंदगी होने पर सफाई कराने के लिए 58888 एसएमएम सुविधा, ट्रेनों की पूछताछ के लिए 139 नंबर, बच्चा बिछड़ गया है तो उन्हें चाइल्ड लाइन तक सुरक्षित पहुंचाने के लिए अलग नंबर है।

खानपान की गड़बड़ी या आर्डर करना है तो इसके लिए अलग-अलग नंबर है। वर्तमान में रेलवे ने इतने अधिक हेल्पलाइन नंबर जारी कर दिए हैं कि यात्रियों को यह याद नहीं रहता। इसके चलते उन्हें असुविधा होती है। हर रेलवे का अलग नंबर होने के कारण भी यात्रियों को इसकी जानकारी नहीं रहती। रेलवे बोर्ड ने यात्रियों की इन्हीं परेशानियों को देखते हुए एक नंबर रखने का निर्णय लिया है। इसकी तैयारी शुरू कर दी गई है।

सुरक्षा हेल्पलाइन नंबर पर बदलाव नहीं

इस नई व्यवस्था के तहत संभवतः सुरक्षा हेल्पलाइन नंबर पर किसी तरह का बदलाव नहीं किया जाएगा। वर्तमान में सुरक्षा हेल्पलाइन नंबर 182 सभी रेलवे में है। इसमें डायल करने से यात्रियों को मदद भी मिलती है। यात्री इस नंबर से अच्छी तरह वाकिब भी है। इस पर बदलाव से उन्हें दिक्कत हो सकती है।

1
Back to top button