अब वैष्‍णो देवी जाने वाले श्रद्धालुओं को कटरा स्‍टेशन पर मिलेंगी ‘नई सुविधाएं’

नई दिल्‍ली. श्रीमाता वैष्‍णो देवी (Shri Mata Vaishno Devi) के दर्शन को जाने वाले श्रद्धालुओं को जल्‍द ही आधार स्‍टेशन कटरा रेलवे स्‍टेशन (Katra Railway Station) पर और अधिक सुविधाएं देखने को मिलेंगी. प्रकृति की गोद में बसे इस रेलवे स्‍टेशन पर श्रद्धालुओं और ट्रेनों की बढ़ती तादाद के चलते भारतीय रेल (Indian Railways) यहां यात्री सुविधाओं का और विस्‍तार करने जा रहा है. साथ ही स्‍टेशन पर दो नए प्‍लेटफॉर्म भी बनाए जाएंगे, जिसका शिलान्‍यास खुद रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव (Ashwani Vaishnav) की मौजूदगी में किया गया. खास बात यह है कि इन दोनों प्‍लेटफॉर्मों का शिलान्‍यास रेल मंत्री ने नहीं, बल्कि आरपीएफ की एक महिला कर्मी ने किया.

रेलमंत्री ने श्री माता वैष्णो देवी कटरा रेलवे स्टेशन (Shri Mata Vaishno Devi Katra Railway Station) पर बुनियादी ढांचे और यात्री सुविधाओं के विस्तार की आधारशिला रखी. उन्‍होंने पूरे स्टेशन का दौरा किया. इस दौरान माता वैष्णो देवी (Mata Vaishno Devi) के आधार शिविर कटरा रेलवे स्टेशन पर दो नए प्लेटफॉर्म का शिलान्यास किया गया. यह परियोजना 29 करोड़ रुपये की लागत से एक साल में पूरी होगी.

फ‍िलहाल कटरा रेलवे स्टेशन पर तीन प्लेटफॉर्म हैं, लेकिन समय के साथ यहां यात्री एवं ट्रेनों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है, ऐसे में कश्‍मीर को जोड़ने वाले कटड़ा-बनिहाल रेल सेक्शन, जोकि उधमपुर-श्रीनगर-बारामुला रेल लिंक परियोजना का हिस्सा होने के चलते इसके विकास पर जोर दिया जा रहा है. ऐसे में जल्द इस महत्वपूर्ण रेल लाइन को बनिहाल तक शुरू करने के लिए दो नए प्लेटफार्म बनाए जा रहे हैं.

इसके साथ ही रेलवे स्टेशन पर मेंटेनेंस व्हीकल, निरीक्षण व्हीकल, फायर फाइटिंग व्हीकल आदि की सुविधाएं भी बढ़ाई जाएंगी. परियोजना को दिसंबर, 2022 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है.

कटरा के बाद रेलमंत्री सेमी हाई स्पीड वंदे भारत एक्सप्रेस (Vande Bharat Express) रेलगाड़ी से जम्मू (Jammu) के लिए रवाना हो गए और उन्होंने मार्ग में सह-यात्रियों से बातचीत की और रेल सेवाओं पर उनके विचार और प्रतिक्रियाएं जानी. रेलमंत्री को अपने साथ यात्रा करते देख यात्री बहुत आश्चर्यचकित थे. कुछ यात्रियों ने रेल प्रणाली में सुधार के भी सुझाव भी दिए. अनेक लोगों ने हाल की वर्षों में रेल सेवाओं की बेहतर गुणवत्ता, स्वच्छता और यात्री सुविधाओं के लिए धन्यवाद दिया.

रेलमंत्री ने वंदे भारत एक्सप्रेस के चालक केबिन में जाकर भी जायज़ा लिया. जम्मू में रेलगाड़ी से उतरने के बाद रेलमंत्री ने जम्मूतवी रेलवे स्टेशन का निरीक्षण किया और वहां मौजूद यात्री सुविधाओं का जायज़ा लिया. उन्होंने स्टेशन पर प्रदर्शित स्टेशन पुनर्विकास योजना को देखा. उन्हें बताया गया कि जम्मूतवी रेलवे स्टेशन पुनर्विकास परियोजना को 226 करोड़ रुपये की लागत से शुरू कर दिया गया है. इसके अंतर्गत ढांचागत विकास, यात्रियों के सुगम आवागमन के लिए सब-वे और स्टेशन पर दूसरा प्रवेश द्वार का कार्य शामिल है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button