अब शासकीय कर्मचारियों को BRTS बसों में मिलने वाली सुविधाओं पर लगेगी पाबंदी

अब मंत्रालय कर्मचारियों को आम लोगों की तरह करना पड़ेगा भुगतान

रायपुरःमंत्रालय आने-जाने वाले कर्मचारियों को दफ्तर आने और जाने के लिए फ्री पास मिलने वाले BRTS बसों में अब कर्मचारियों को मिलने वाली यह सुविधा नहीं मिलेगी. सरकार ने मंत्रालय के इस सुविधा को बंद करने का निर्णय लिया है. अब मंत्रालय कर्मचारियों को आम लोगों की तरह ऑफिस आने जाने के लिए भुगतान करना पड़ेगा.

सरकार के फैसले के बाद 1 नवंबर के बाद से मंत्रालय के कर्मचारियों को फ्री पास की सुविधा मिलना बंद हो जाएगी. जिसके बाद अब मंत्रालय के कर्मचारियों को मंत्रालय आने और जाने के लिए BRTS बस में पैसे देने पड़ेंगे.

दरअसल, BRTS की सर्वे रिपोर्ट में सामने आया था कि इसपर सालाना 13 करोड़ रुपए खर्च हो रहे थे, जबकि BRTS के पास आवक सिर्फ 20 फीसदी ही थी, जिसके चलते सरकार ने कर्मचारियों को मिलने वाली इस फ्री पास वाली सुविधा को खत्म कर दिया है.

आपको बता दें कि मंत्रालय के कर्मचारियों के लिए BRTS की 30 एसी बसों में से 14 बसें आरक्षित भी हैं, जिसमें हर महीने 8 हजार 491 कर्मचारी मुफ्त सफर कर रहे थे. ऐसे में BRTS को हर दिन करीब 30 लाख का नुकसान झेलना पड़ रहा था. ऐसे में इस बड़े नुकसान को देखते हुए सरकार ने मंत्रालय कर्मचारियों को मिलने वाली इस सुविधा को खत्म करने का फैसला लिया है.

Back to top button