बिज़नेस

अब ट्रेन की टिकट बुक करने से पहले आपसे पूछा जाएगा Menu

हाल में आई कैग रिपोर्ट के बाद रेलवे का खाना खाने से पहले कोई भी यात्री सौ बार विचार करेगा, लेकिन कई ट्रेनों में खाने का पैसा टिकट में ही कट जाता है। ऐसे में अगर यात्री खाना नहीं लेता है तो उसका नुकासान हो जाता है। बुधवार को रेलवे ने कई ट्रेनों में Alternative Catering की सेवा शुरू कर दी है।

टिकट बुकिंग के समय ही पूछा जाएगा मेन्यू

रेलवे ने पहले इसे 7 राजधानी, 6 शताब्दी ट्रेन और 5 दूरंतो ट्रेनों में लागू किया है। इस सेवा के तहत यात्रियों से टिकट बुकिंग के समय ही खाने के बारे में पूछा जाएगा। अगर आप ट्रेन में खाना लेना चाहते हैं तो ही आपको इसके पैसे देने होंगे। पहले इन ट्रेनों में टिकट के साथ ही कैटरिंग के पैसे भी कट जाते थे। वहीं कैग की रिपोर्ट के बाद रेलवे अपने खाने की क्वॉलिटी में भी सुधार कर रही है। रेलवे ने इसके तहत जांच अभियान छेड़ा है, इसके तहत 88 ट्रेनों में जांच की गई।

जनवरी से जून तक में 12 ठेकेदारों के ठेके हुए रद्द
गौरतलब है कि बुधवार को यूपी के चंदौली में एक रेल यात्री के खाने में छिपकली निकलने का मामला सामने आया। पूर्वा एक्सप्रेस में यात्रा कर रहे एक यात्री ने ट्विटर पर रेल मंत्री से इस बात की शिकायत की। वही खाने में छिपकली मिलने की शिकायत करने वाले यात्री ने बताया कि उसने टीटीई और कैंटीन मैनेजर से शिकायत की, उसके बाद रेल मंत्री को ट्वीट किया। शिकायत के बाद संबंधित ठेकेदार का ठेका निरस्त कर दिया गया है। बता दें पिछले तीन सालों में शिकायत के कारण हर साल केवल तीन ठेके ही रद्द किए गए हैं। जबकि इस साल जनवरी से जून तक में 12 ठेकेदारों के ठेके रद्द हो चुके हैं।

Tags
Back to top button