राष्ट्रीय

NSA अजीत डोभाल का कद हुआ ऊंचा, “स्ट्रैटेजिक पॉलिसी ग्रुप” का चीफ नियुक्त

एसपीजी के सदस्यों की संख्या 16 से बढ़ाकर 18 करने का भी किया फैसला

नई दिल्ली :

केन्द्र की मोदी सरकार ने बीते दिनों नियमों में बदलाव करते हुए ‘राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार’ अजीत डोभाल का कद बढ़ाते हुए उन्हें “स्ट्रैटेजिक पॉलिसी ग्रुप” का चीफ नियुक्त किया है। अब NSA अजीत डोभाल “स्ट्रैटेजिक पॉलिसी ग्रुप” का पदभार संभालेंगे।

गौरतलब है कि अभी तक एसपीजी के चीफ का पद ‘कैबिनेट सेक्रेटरी’ के पास होता था, लेकिन मोदी सरकार ने बीते दिनों नियमों में बदलाव करते हुए एसपीजी का चीफ राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार को बनाने का फैसला किया था।

अब सरकार का यह फैसला लागू हो गया है और ‘एनएसए अजीत डोभाल’ ने कैबिनेट सेक्रेटरी को रिप्लेश करते हुए एसपीजी चीफ का पद संभाल लिया है। बता दें कि स्ट्रैटेजिक पॉलिसी ग्रुप का गठन अप्रैल, 1999 में किया गया था।

एसपीजी का काम ‘नेशनल सिक्योरिटी काउंसिल’ के साथ मिलकर देश की आंतरिक, बाहरी और आर्थिक सुरक्षा को लेकर रणनीति बनाना है।साल 1999 में जब एसपीजी का गठन हुआ था, तब सरकार ने इसका चेयरपर्सन कैबिनेट सेक्रेटरी को नियुक्त किया था।

लेकिन बीती 11 सितंबर को सरकार ने एक फैसले में एसपीजी का प्रमुख कैबिनेट सेक्रेटरी के बजाए राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार को बनाने का फैसला किया। 8 अक्टूबर के गैजेट में सरकार ने अपना यह आदेश पब्लिश भी किया है।

एक खबर के अनुसार, सरकार ने एसपीजी के सदस्यों की संख्या 16 से बढ़ाकर 18 करने का भी फैसला किया है। 2 अतिरिक्त नए सदस्यों के तौर पर कैबिनेट सेक्रेटरी और नीति आयोग के चेयरमैन को इसमें शामिल किया गया है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
NSA अजीत डोभाल का कद हुआ ऊंचा, “स्ट्रैटेजिक पॉलिसी ग्रुप” का चीफ नियुक्त
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags