राष्ट्रीय

एनटीपीसी ने प्रतिष्ठित सीआईआई-आईटीसी सस्टेनेबिलिटी अवार्ड-2019 हासिल किया

कंपनी ने सीएसआर की श्रेणी में महत्वपूर्ण उपलब्धि के लिए प्रशस्ति भी प्राप्त की

नई दिल्ली: भारत की सबसे बड़ी बिजली उत्पादन कंपनी एनटीपीसी लिमिटेड ने कॉरपोरेट एक्सीलेंस श्रेणी में उत्कृष्ट उपलब्धि के तहत सीआईआई-आईटीसी सस्टेनेबिलिटी अवार्ड 2019 हासिल किया है। साथ ही, कंपनी ने सीएसआर की श्रेणी में महत्वपूर्ण उपलब्धि के लिए प्रशस्ति भी प्राप्त की है।

एनटीपीसी हमेशा पावर स्टेशनों के आसपास अपने समुदायों के सतत विकास के लिए प्रयास करता है। इसका प्रमुख सीएसआर कार्यक्रम जीईएम (बालिका सशक्तीकरण मिशन) है। यह एक 4 सप्ताह का आवासीय कार्यक्रम है, जिसके तहत एनटीपीसी के पावर स्टेशनों के आसपास रहने वाली वंचित वर्ग की स्कूली बालिकाओं की सहायता की जाती है, ताकि उनका समग्र विकास हो सके।

एनटीपीसी ने संविदाकारों के श्रम सूचना प्रबंधन प्रणाली (सीएलआईएमएस) की भी शुरुआत की है, जिसके माध्यम से ठेका मजदूरों को परियोजना स्थलों पर महीने के अंतिम दिन भुगतान किया जाता है।

सीआईआई-आईटीसी सस्टेनेबिलिटी अवार्ड्स सस्टेनेबिलिटी की दिशा में किए गए उत्कृष्ट प्रयासों को मान्यता देते हैं और पुरस्कृत करते हैं। देश में सस्टेनेबिलिटी की दिशा में पहचान के लिहाज से इसे सबसे विश्वसनीय प्लेटफाॅर्म माना जाता है।

62110 मेगावाट की कुल स्थापित क्षमता के साथ, एनटीपीसी समूह के पास 70 बिजली स्टेशन हैं, जिनमें 24 कोयला, 7 कंबाइंड साइकल गैस/लिक्विड फ्यूल, 1 हाइड्रो, 13 नवीकरण और 25 सहायक और जेवी पावर स्टेशन हैं।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button