अंतर्राष्ट्रीय

परमाणु निरस्त्रीकरण जल्द हो : पोम्पियो

सोलः अमरीका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने आज कहा कि उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन यह समझते हैं कि परमाणु निरस्त्रीकरण ‘जल्द से जल्द’ होना चाहिए। उन्होंने चेतावनी दी कि जब तक यह प्रक्रिया पूरी नहीं होगी तब तक प्योंगयांग को पाबंदियों से कोई राहत नहीं मिलेगी।

पोम्पियो ने कहा कि उत्तर कोरिया के पूरे, सत्यापित किए जा सकने वाले और अपरिवर्तनीय परमाणु निरस्त्रीकरण की प्रक्रिया के प्रति वाशिंगटन प्रतिबद्ध बना हुआ है। इससे पहले सिंगापुर में हुए अमेरिका-उत्तर कोरिया शिखर सम्मेलन के बाद जो साझा बयान जारी किया गया था, उसकी इस बात को लेकर आलोचना हुई थी कि उसमें प्योंगयांग द्वारा परमाणु हथियारों को खत्म करने की योजना को लेकर कुछ भी स्पष्ट रूप से नहीं कहा गया।

उन्होंने कहा, ‘‘ हमारा मानना है कि किम जोंग उन यह समझते हैं कि इसे जल्द से जल्द करने की जरूरत है।

वाशिंगटन के शीर्ष राजनयिक मंगलवार को हुई ऐतिहासिक वार्ता के बारे में दक्षिण कोरिया तथा जापान के अपने समकक्षों को जानकारी देने के लिए सोल में हैं। शिखर वार्ता के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की टिप्पणियों से तोक्यो और सोल में भ्रम और ङ्क्षचता की स्थिति बन गई थी।

दोनों देशों के विदेश मंत्रियों के साथ साझा संवाददाता सम्मेलन में पोम्पियो ने कहा था कि उत्तर कोरिया का परमाणु निरस्त्रीकरण किस तरह हासिल किया जा सकेगा इस बारे में सहयोगियों के बीच स्थिति स्पष्ट नहीं है।

पूवर्वर्ती अमेरिकी प्रशासनों और ट्रंप नीति की तुलना करते हुए पोम्पियो ने कहा कि पहले वह पूरा परमाणु निरस्त्रीकरण होने से पहले ही आॢथक और वित्तीय राहत दे देते थे लेकिन अब ऐसा नहीं होने वाला, राष्ट्रपति ट्रंप ने यह स्पष्ट कर दिया है। पोम्पियो की यह टिप्पणी उत्तर कोरिया के सरकारी मीडिया की उन खबरों की पृष्ठभूमि में आई है जिनमें बुधवार को कहा गया था कि ट्रंप ने वार्ता के दौरान सैन्य अभ्यास रोकने और प्योंगयांग पर लगाए प्रतिबंध हटाने का प्रस्ताव दिया है।

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.