सामाजिक संस्था,’ एकता मंच’ द्वारा नुक्कड़ नाटक ‘कोरोना मुक्त समाज’ का आयोजन सफलतापूर्वक संपन्न

कोरोना के प्रति जन जागृति के उद्देश्य से 'कोरोना मुक्त समाज' का सफल मंचन हुआ

मुंबई: लोगों में कोरोना के प्रति जन जागृति पैदा करने के लिए और प्रशासन को सहयोग के उद्देश्य से सामाजिक संस्था,’ एकता मंच’ के अध्यक्ष अजय कौल ने पूरे मुंबई शहर में नुक्कड़ नाटक के आयोजन के जरिए लोगों को बताने कि कोशिश करेंगे कि कोरोना को हल्के में ना ले, इसे हल्के में लेने की वजह से फिर कोरोना फैल रहा है, इसके प्रति सचेत रहे और सरकारी नियमों का पालन करें। जिसकी शुरुआत ‘एकता मंच’ अंधेरी (वेस्ट) के सात बंगाल में स्थित गार्डन के पास नुक्कड़ नाटक ‘कोरोना मुक्त समाज’ का आयोजन 16 मार्च 2021 को किया था, जोकि सफलता पूर्वक सम्पन्न हुआ।

इस अवसर पर अजय कौल, वेस्ट रिजन के एडिशनल कमिश्नर संदीप कर्णिक, वर्सोवा के वरिष्ठ इंस्पेक्टर सिराज इनामदार,कॉर्पोरेटर प्रतिमा खोपड़े,डीएन नगर के वरिष्ठ इंस्पेक्टर गायकवाड़ ,प्रशांत क़ासिद इत्यादि लोगों ने उपस्थित रहकर लोगों को कोरोना के प्रति सजग रहने की सलाह दी।

नुक्कड़ नाटक ‘करोना मुक्त समाज’ का मंचन महाराष्ट्र सांस्कृतिक अभियान न्यास के कलाकारों द्वारा किया गया।जो कि एक भावात्मक नाटक था,जिसके जरिए बताया गया कि यदि परिवार का एक व्यक्ति करोना से मर जाता है या बीमार पड़ता है तो पूरा परिवार तकलीफ में आ जाता है। और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे साहेब इसके लिए काफी अच्छे कदम उठाकर अपनी जिम्मेदारी को निभा रहे है और जनता को भी अपनी जिम्मेदारी समझते हुए सहयोग देना चाहिए।

इस अवसर पर अजय कौल ने कहा कि प्रशासन के लोग जैसे कि मंत्री, नेता, पुलिस, डॉक्टर, बीएमसी इत्यादि लोग जनता की भलाई के लिए काम कर रहे है और हम सभी को इसमें पूरा सहयोग देना चाहिए।इस अवसर पर चिल्ड्रन वेलफेयर सेंटर हाई स्कूल के एक्टिविटी चेयरमैन प्रशांत काशिद ने कहा कि सभी को चाहिए कि बेवजह ना घूमे व कोई पिकनिक या सैर सपाटे का प्रोग्राम बनाये तथा सरकारी नियम चाहे मास्क हो, हाथ धोने का हो या सोशल डिस्टेंसी इत्यादि का ठीक से पालन करें, जब तक करोना ठीक ना हो जाय।

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button