उत्तर प्रदेश

यूपी बोर्ड: 53 लाख से ज्यादा ड्यूप्लिकेट छात्र बाहर

यूपी बोर्ड परीक्षाओं में हिस्सा लेने वाले छात्रों की संख्या काफी कम हो गई है। इस बार कक्षा 9 और कक्षा 11 में पिछले साल की तुलना में लगभग 14 लाख कम बच्चों ने रजिस्ट्रेशन कराया है। ये छात्र 2017-18 के शैक्षिक सत्र में परीक्षाएं देंगे।

पिछले शैक्षिक सत्र में 67 लाख से ज्यादा छात्रों ने माध्यमिक शिक्षा परिषद परीक्षाओं के लिए रजिस्ट्रेशन कराया था। इस साल यूपी बोर्ड में छात्रों की संख्या गिरकर 53.34 लाख पर आ गई है। इस बार मात्र 13.66 लाख छात्र ही यूपी बोर्ड की परीक्षाएं देंगे।

माध्यमकि शिक्षा बोर्ड के आंकड़े देखें तो इस बार कक्षा 9 में 30.05 लाख छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया था, जबकि 23.3 लाख छात्र कक्षा 11 में रजिस्टर्ड हुए थे।

यूपी बोर्ड की सचिव नीना श्रीवास्तव ने बताया कि चौंकाने वाली बात यह है कि यह संख्या इसलिए घटी क्योंकि इस बार ड्यूप्लिकेट छात्रों को बाहर कर दिया गया है। इस साल यूपी बोर्ड की वेबसाइट को अपग्रेड किया गया है, जिसका परीणाम यह रहा कि छात्रों की संख्या इतनी कम हो गई।

इस बार ड्यूप्लिकेसी से बचने के लिए वेबसाइट में कई बार नामों की चेकिंग की गई। अभी डीआईओएस (डिस्ट्रिक्ट इंस्पेक्टर ऑफ पुलिस) को कहा गया है कि वह स्कूलों से छात्रों की लिस्ट लेकर दें ताकि कोई छात्र बिना परीक्षा के न रह जाए।

सूत्रों की मानें तो छात्रों की संख्या कम होने का एक कारण यह भी है कि कई स्कूलों के प्रिसिंपल ने अभी तक छात्रों का रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन कराया ही नहीं हैं। अगस्त में यूपी बोर्ड परीक्षाओं के लिए छात्रों का रजिस्ट्रेशन शुरू किया गया था। 2 अक्टूबर को यह रजिस्ट्रेशन खत्म हो गया। कई प्रिंसिपल को तकनीकी समस्या से जूझना पड़ा।साथ ही वेबसाइट में तकनीकी खामियों की वजह से कई छात्र रजिस्ट्रेशन नहीं करवा पाए।

Summary
Review Date
Reviewed Item
रजिस्ट्रेशन
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *