आंगनबाड़ी केन्द्रों में विभागीय समन्वय से चलेगा पोषण अभियान

रायपुर : मंत्रालय महानदी भवन में आज महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में विभिन्न विभागों के समन्वय से आंगनबाड़ी केन्द्रों में पोषण अभियान चलाये जाने पर विस्तार से जानकारी दी गयी। पोषण अभियान के तहत स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण, कृषि एवं उद्यानिकी, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग, राष्ट्रीय ग्रामीण आजिविका मिशन, स्कूल शिक्षा विभाग, नगरीय प्रशासन विभाग, समाज कल्याण विभाग और अनुसूचित जाति और जनजातीय कल्याण विभाग द्वारा विभिन्न गतिविधियों का संचालन आंगनबाड़ी केन्द्रों में किया जाएगा।

भारत सरकार के पोषण अभियान के तहत छत्तीसगढ़ के 23 हजार 926 आंगनबाड़ी केन्द्रों में शिशु एवं मातृ सुरक्षा, कुपोषण मुक्ति, स्वच्छता, बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने महिलाओं की साक्षरता आंगनबाड़ी केन्द्रों के भवनों का निर्माण जैसे अन्य गतिविधियों का संचालन किया जाएगा। बस्तर जिले के 2040, बीजापुर के 1172, दंतेवाड़ा के 1157, दुर्ग के 1057, जशपुर के 4333, कांकेर के 2141, कवर्धा के 1687, कोरबा के 2589, महासमुंद के 1795, नारायणपुर 560, रायपुर के 1886 और राजनांदगांव जिले के 3159 आंगनबाड़ी केन्द्रों में पोषण अभियान चलाये जाएंगे। आज की कार्यशाला में महिला एवं बाल विकास विभाग की सचिव डॉ. एम.गीता, संचालक राजेश सिंह राणा, यूनिसेफ के प्रशांता दास और फरहत सैद सहित विभिन्न विभागों के नोडल अधिकारी उपस्थित थे।

new jindal advt tree advt
Back to top button