ओ’ब्रेडी ने पेश की जांबाजी की मिसाल, अकेले बनाया ये रिकॉर्ड !

उन्होंने उत्तर से दक्षिण अंटार्कटिका तक 1600 किमी की दूरी रिकॉर्ड 54 दिन में पूरी की।

अमेरिका के ओरेगॉन के रहने वाले कॉलिन ओ’ब्रेडी (33) ने जांबाजी की मिसाल पेश की है।

वह बिना किसी मदद के अकेले रिकॉर्ड समय में अंटार्कटिका महाद्वीप को पार करने वाले दुनिया के पहले व्यक्ति बन गए हैं।

उन्होंने उत्तर से दक्षिण अंटार्कटिका तक 1600 किमी की दूरी रिकॉर्ड 54 दिन में पूरी की। उत्तर से दक्षिण तक बर्फ की चादर से ढके इस महाद्वीप पर अंतिम 77.5 मील की यात्रा 32 घंटे में पूरी करने के बाद ओ’ब्रैडी ने

इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट में लिखा- मैंने अकेले अंटार्कटिका महाद्वीप को पार करने वाला इतिहास में पहला व्यक्ति बनने का अपना लक्ष्य हासिल कर लिया। इस दौरान ओ’ब्रेडी ने करीब 180 किलो सामान खींचा।

ओ’ब्रैडी और इंग्लैंड के सेना कैप्टन लुईस रुड (49) ने तीन नवंबर को अंटार्कटिक पार करने की यात्रा शुरू की थी। ओ’ब्रैडी बुधवार को प्रशांत महासागर पर रॉस आईस शेल्फ पर पहुंचे।

रुड उनसे एक या दो दिन पीछे हैं। हालांकि, इस दौरान जीपीएस से ओ’ब्रेडी पर नजर रखी जा रही थी।

न्यूयॉर्क टाइम्स ने ओ’ब्रेडी के अभियान को इतिहास में सबसे उल्लेखनीय बताया। अखबार ने लिखा कि अंतिम 124 किमी की दूरी एक बार में तय करना आसान नहीं था।

उन्होंने अपने लिए ऐसा लक्ष्य तय किया, जिसे अक्सर लोग बीच में ही छोड़ देते हैं।

बताते चलें कि अंटार्कटिका पर सबसे पहले नॉर्वे के रोआल्ड एमंडसेन और उनके बाद ब्रिटेन के रॉबर्ट फाल्कन स्कॉट पहुंचे थे।

साल 2016 में इंग्लैंड के एक सेना अधिकारी लेफ्टिनेंट कर्नल हेनरी वोर्सली की अकेले अंटार्कटिका पार करने की कोशिश में मौत हो गई थी। लुइस रुड उनके दोस्त हैं।

advt
Back to top button