अधिकारी सौंपे गये दायित्वों का निर्वहन कर्तव्य निष्ठा के साथ करें : कलेक्टर

हितेश दीक्षित:

गरियाबंद: जिले के पवित्र धार्मिक नगरी राजिम में माघ पुर्णिमा से महाशिवरात्रि तक लगने वाले राजिम माघी पुन्नी मेला का शुभारंभ मंगलवार 19 फरवरी से होने जा रहा है। कलेक्टर श्याम धावड़े ने आज अधिकारियों की समय-सीमा की बैठक में मेला स्थल पर प्रशासनिक तैयारियों की समीक्षा की।

विभिन्न विभाग के अधिकारियों को सौंपी गई जिम्मेदारी

उन्होंने कहा कि मेला हेतु विभिन्न विभाग के अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी गई है। अधिकारी सौंपे गये दायित्वों का निर्वहन निष्ठापूर्वक करें। उन्होंने कहा कि जिन विभागों का मेला स्थल पर स्टाॅल लगाये जायेंगे, वे शुभारंभ कार्यक्रम के पहले आज अपरान्ह 4 बजे तक पूर्ण कर लें।

कलेक्टर ने कहा कि मेला स्थल में आयोजित शासकीय कार्यक्रमों में समस्त विभागों के अपनी उपस्थिति सुनिश्चित करें। कलेक्टर ने समीक्षा के दौरान राज्य सरकार की नरवा, गरवा, घुरूवा और बाड़ी की परिकल्पना को जिले में मूर्त रूप देने बेहतर कार्य योजना के साथ कार्य करने अधिकारियों को निर्देशित किया।

उन्होंने लोक सेवा गारंटी अधिनियम के अंतर्गत विभागों में लंबित आवेदनों को शीघ्र निपटाने और ग्राम सूपेबेड़ा में स्वास्थ्य मंत्री द्वारा किये गये घोषणाओं को तत्परतापूर्वक अमल मंे लाने कहा। कलेक्टर ने मनरेगा के तहत सभी स्वीकृत कार्य प्रारंभ कराने, आभार योजना अंतर्गत पेंशन प्रकरणों में प्रगति लाने और प्रधानमंत्री आवास योजना व स्वच्छ भारत मिशन के कार्यो में गति लाने संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया।

कलेक्टर धावड़े ने वन अधिकार पट्टा की समीक्षा करते हुए प्राप्त आवेदनों की सत्यापन पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि पात्र हितग्राहियों का ही चयन सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने युवाओं को स्वरोजगार हेतु कौशल विकास के तहत राजमिस्त्रियों, इलेक्ट्रिशियन एवं मैकेनिकों की कार्यशाला आयोजित करने कहा है। जिले में मतदाता जागरूता हेतु स्वीप प्लान के तहत अभियान को अंजाम तक पहुंचाये। अधिकारी विभागीय मैदानी अमलों के कार्यो में कसावट लाने क्षेत्र भ्रमण को प्राथमिकता देंवे।

कलेक्टर ने कहा कि जिले में विभागीय योजनााओं के बेहतर क्रियान्वयन के लिए संबंधित विभाग के जिला प्रमुख अधिकारी निर्धारित मुख्यालायों में रहना सुनिश्चित करें। बैठक में अपर कलेक्टर के.के. बेहार, जिला पंचायत सीईओ आर.के. खुटे, वनमण्डलाधिकारी राजेश पाण्डेय, संयुक्त कलेक्टर जे.आर. चैरसिया एवं समस्त विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।

Back to top button