राष्ट्रीय

15 अगस्त में लम्बे भाषण की लोगों ने की शिकायत: मन की बात में मोदी ने बताया

मन की बात में पीएम ने कहा कि कई लोगों ने उनसे शिकायत की कि 15 अगस्त के भाषण काफी लंबे होते हैं.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को 34वीं बार रेडियो पर देश की जनता से ‘मन की बात’ कर रहे हैं.

उन्होंने कहा कि लोगों कि शिकायतों को ध्यान में रखते हुए वह इस बार अपना भाषण 40 से 50 मिनट में समेटने की कोशिश करेंगे.

पीएम मोदी ने पिछले दिनों आयोजित वीमेन वर्ल्डकप के दौरान टीम इंडिया को देशभर से मिले उत्साह और फाइनल में हार के बाद भी देशवासी जिस तरह टीम के साथ खड़े रहे और खिलाड़ियों का मनोबल बढ़ाया पीएम ने इसकी भी तारीफ की.

ये रहीं पीएम मोदी के भाषण की मुख्य बातेंः

– पीएम ने अपने भाषण की शुरुआत पर्यावरण से की. उन्होंने कहा कि पर्यावरण में आ रहे बदलाव से बहुत कुछ बदल रहा है. उन्होंने देश के कई हिस्सों में आई बाढ़ पर चर्चा करते हुए कहा कि सरकार की नजर है और वह हरसंभव मदद की कोशिश कर रही है. उन्होंने मुश्किल घड़ी में आगे आकर लोगों की मदद करने वालों की तारीफ की.

– इस महीने की शुरुआत में लागू हुए गुड्स एंड सर्विसेस टैक्स (जीएसटी) पर बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि देश में जीएसटी का सकारात्मक असर पड़ा है.

उन्होंने कहा कि इससे अर्थव्यवस्था को मजबूती मिली है. चीजें सस्ती हुई हैं. उन्होंने जीएसटी के लिए सभी राज्यों को बधाई दी.

पिछले दिनों आई एक रिपोर्ट के मुताबिक मन की बात कार्यक्रम के जरिए ऑल इंडिया रेडियो अब तक 10 करोड़ रुपये की कमाई कर चुकी है. पिछले दिनों मन की बात के 34वें संस्करण की घोषणा करते हुए पीएम मोदी ने ट्विटर पर लोगों से सुझाव मांगे थे.

हर महीने के आखिरी रविवार को प्रसारित होने वाले इस कार्यक्रम में पीएम मोदी देश की जनता से सामाजिक, सांस्कृतिक मद्दों पर और करेंट अफेयर्स पर बात करते हैं.

इसका प्रसारण ऑल इंडिया रेडियो के माध्यम से आकाशवाणी के सभी केंद्रों, एफएम चैनलों आदि पर प्रसारित किए जाते हैं.

इस प्रोग्राम को दूरदर्शन के माध्यम से निजी समाचार चैनल भी प्रसारित करते हैं.

Tags
Back to top button