अपनी जायज मांग को लेकर कोतवाल बैठे हड़ताल पर

जिसके चलते गांव की मुनादी, तहसील, थाना, सहित अनेक कार्य ठप हो गए हैं।

बालोद: जैसे जैसे विधानसभा चुनाव का समय नजदीक आ रहे हैं ऐसे में हड़ताल का दौर भी शुरु हो गया। और अपनी जायज मांगों को लेकर जमकर हल्ला बोल रहे हैं।इसी क्रम में आज कोटवार एसोसिएशन ऑफ छत्तीसगढ़ के प्रांतीय आव्हान पर बालोद तहसील कोटवार संघ अपनी सात सूत्रीय मागो को लेकर 30 जून तक हड़ताल पर हैं। जिसके चलते गांव की मुनादी, तहसील, थाना, सहित अनेक कार्य ठप हो गए हैं।

वही इन कोतवालों के मांगो को सरकार द्वारा दी गई समय सीमा पर पूर्ण नही किया गया तो 1 व 2 जुलाई को प्रदेशस्तरीय कोटवार संघ द्वाराप्रमुख मांगो को लेकरविधानसभा का घेराव करेंगे।वही हड़ताल पर बैठे कोटवारों ने रमन सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की जिलाध्यक्ष तिजुराम सोनवानी ने कहा की रमन सरकार पूर्व में कोटवारों के मानदेय बढ़ाने की घोषणा की गई थी लेकिन 13 माह बीत जाने के बाद आज तक मानदेय में कोई बढ़ोतरी नही की गई जिससे सरकार खिलाफ कोटवारों का आक्रोश बढ़ता जा रहा हैं।

Back to top button