राष्ट्रीय

‘रेप इन इंडिया’ वाले अपने बयान पर राहुल गांधी ने कहा, मै माफी नहीं मांगूंगा

राहुल गांधी ने शिवसेना के आइकन पर मुद्दे को लेकर बोला हमला

नई दिल्ली: महाराष्ट्र में शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी सत्ता में साझीदार हैं. राहुल गांधी ने अपनी साझीदार शिवसेना के आइकन पर उस मुद्दे को लेकर हमला बोला जो शिवसेना की दुखती रग रही है.

दरअसल कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ‘रेप इन इंडिया’ वाले अपने बयान पर कहा कि, मै माफी नहीं मांगूंगा. उनका नाम राहुल सावरकर नहीं, राहुल गांधी है. इस बयान से शिवसेना तिलमिला गई है. आखिर ये शिवसेना के उस नायक का अपमान था, जिसके नाम पर पार्टी वर्षों से सियासत करती आई है.

राहुल का इशारा हिंदूवादी नेता विनायक दामोदर सावरकर की ओर से 14 नवंबर, 1913 को ब्रिटिश सरकार को कथित रूप से लिखे गए माफीनामे की तरफ था, जिसे उन्होंने अंडमान की सेलुलर जेल में कैद रहने के दौरान लिखा था.

रेप पर दिए गए बयान को लेकर बीजेपी की ओर से माफी की मांग पर राहुल ने शनिवार को कहा था कि उनका नाम राहुल सावरकर नहीं है, राहुल गांधी है और वे मर जाएंगे पर कभी माफी नहीं मांगेंगे.

‘सावरकर आज भी देश के नायक’

राहुल के बयान ने शिवसेना को असहज कर दिया है. संजय राउत ने कहा कि राहुल का बयान बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है और सावरकर का बलिदान समझने के लिए राहुल को कांग्रेस नेता कुछ किताबें गिफ्ट करें.

संजय राउत ने मराठी में कहा, “हम पंडित नेहरू, महात्मा गांधी को भी मानते हैं, आप वीर सावरकर का अपमान ना करें, बुद्धिमान लोगों को ज्यादा बताने की जरूरत नहीं होती.” दूसरे ट्वीट में उन्होंने कहा कि अगर आज भी आप वीर सावरकर का नाम लेते हैं तो देश के युवा उत्तेजित और उद्वेलित हो जाते हैं, आज भी सावरकार देश के नायक हैं और आगे भी नायक बने रहेंगे, वीर सावरकर हमारे देश का गर्व हैं.”

Tags
Back to top button