शिवराज सिंह का विपक्ष पर पलटवार, कहा- कांग्रेस के शासनकाल में सड़कें क्यों नहीं बनीं

कमलनाथ ने बीते रोज शिवराज से 10 सवालों के जवाब चाहे थे।

मध्यप्रदेश : मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने रविवार को आक्रामक रुख धारण कर विपक्ष पर पलटवार करते हुए कांग्रेस के कार्यकाल की सड़क, पानी और बिजली की स्थितियों पर सवालिया निशान खड़े कर दिए।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिह चौहान ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के सवालों के जवाब सवाल के जरिए ही दिए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस जब सत्ता में रही तो सड़के क्यों नहीं बनवा पाई?

भाजपा के शासनकाल में पूरे प्रदेश में सड़कों का जाल बिछाया गया है। रविवार को खरगोन में संवाददाताओं से चर्चा करते हुए चौहान ने कहा कि वे कमलनाथ से कांग्रेस के शासनकाल में सड़क, बिजली और सिंचाई को लेकर सवाल पूछते हैं, उसका जवाब दें।

कमलनाथ ने बीते रोज शिवराज से 10 सवालों के जवाब चाहे थे। चौहान ने कहा कि दिग्विजय सिह के शासन में विद्युत वितरण कंपनी का चेयरमैन कमलनाथ की पसंद का होता था, तब प्रदेशवासियों को 24 घंटे बिजली क्यों नहीं मिल पाई। इतना ही नहीं, भाजपा ने सिंचाई का रकबा बढ़ाकर साढ़े सात लाख हेक्टयर से बढ़ाकर 40 लाख किया।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष, बुजुर्ग नेता कमलनाथ सिर्फ पत्र लिखते हैं, प्रेसनोट जारी करते हैं। उन्हें पत्र लिखने के बजाय जमीन पर जाकर काम करना चाहिए। सिर्फ छपास की राजनीति करने का काम कांग्रेस करती है।

उन्होंने कहा कि सवा सौ साल पुरानी कांग्रेस और अब की कांग्रेस में जमीन आसमान का अंतर है। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने जो व्यवहार लोकसभा में किया, वह अमर्यादित आचरण था। वे जाते हैं

और प्रधानमंत्री से लिपट जाते हैं, सर्वोच्च नेता के साथ ऐसा आचरण करना, अशोभनीय है। राहुल ने अपने व्यवहार से यह सिद्ध कर दिया कि उन्होंने जो कहा कि ‘मैं पप्पू हूं’, वो जो कहते हैं यह गलत नहीं है।

गौरतलब है कि राहुल गांधी ने यह नहीं कहा था कि ‘मैं पप्पू हूं’। उन्होंने कहा था कि ‘आप मुझे पप्पू कहते रहिए, लेकिन मैं आप से नफरत नहीं करता, कांग्रेस किसी से नफरत नहीं करती, हम नफरत की राजनीति नहीं करते।’

विपक्ष ने लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव लाकर जब 12 घंटे तक केंद्र सरकार को खरी-खोटी सुनाई, उसके बाद से राहुल गांधी को ‘पप्पू’ साबित करने की होड़ मची है, जबकि राहुल के भाषण की देशभर में लोग तारीफ कर रहे हैं।

Back to top button