छत्तीसगढ़

स्वच्छता सर्वेक्षण पर मोबाईल एप के माध्यम से फीडबैक कर सकेंगे 31 अगस्त तक

स्वच्छता के सात आयामों की ग्राम पंचायतों में दी जा रही जानकारी, कलाजत्था और स्वच्छता रथ के जरिये स्वच्छता का प्रचार जारी

– मनीष शर्मा

मुंगेली : पेयजल एवं स्वच्छता मंत्रालय भारत सरकार द्वारा स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण 2018 का आयोजन 1 अगस्त से 31 अगस्त 2018 तक किया जा रहा है। सर्वेक्षण के दौरान स्वच्छता के विभिन्न मापदंडो यथा सार्वजनिक स्थानों जैसे- शाला, आंगनबाडी, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, हाट बाजार, ग्राम पंचायत आदि का सर्वेक्षण स्वच्छता के विषय पर किया जायेगा। सर्वेक्षण के आधार पर जिलो एवं राज्यो में स्वच्छता एवं साफ सफाई की स्थिति के रैकिंग की जायेगी। सर्वोत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले राज्यों एवं जिलो को 2 अक्टूबर 2018 को पुरस्कृत किया जायेगा।

अतएव जिला एवं राज्य के रैकिंग हेतु सर्वेक्षण के रूप रेखा में जैसे- स्वच्छता की स्थिति का प्रत्यक्ष अवलोकन, नागरिको का फीडबैक, स्वच्छता के मापदण्डो पर सेवा स्तरीय प्रगति मे से नागरिको का फीडबैक बहुत ही महत्वपूर्ण घटक हैं। इस घटको अंतर्गत जिलो के सर्वोत्कृष्ट प्रदर्शन पर 35 प्रतिशत अंक प्राप्त होगा। स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण 2018 के अंतर्गत ग्राम पंचायत कोदवाबानी बाजार, ग्राम पंचायत कंतेली बाजार, ग्राम पंचायत गीधा बाजार तथा ग्राम पंचायत रेहुंटा, ग्राम पंचायत सोढार, ग्राम पंचायत कोदूकापा, ग्राम पंचायत पीथमपुर, ग्राम पंचायत धनगांव एवं विकासखण्ड मुगेली के अन्य ग्राम पंचायतों में कलाजत्था तथा स्वच्छता रथ के माध्यम से स्वच्छ सर्वेक्षण हेतु ग्रामीणजन को जागरूक किया गया। ग्राम पचायतों में सार्वजनिक स्थलों की सफाई एवं स्कूल, आंगनबाडी मे स्वच्छता के सात आयाम जैसे- शौचालय के उपयोग, साबुन से हाथ धुलाई, गन्दे पानी की सही निकासी, शौचालय के रख-रखाव, कूडे कचरे के सही निपटान तथा स्वच्छता गतिविधियां ग्राम पंचायतो में आयोजित की जा रही है।

jindal