छत्तीसगढ़

भागवत के छठंवे दिन प्रवचनकर्ता ने रूकमणी विवाह का किया वर्णन

उसके पश्चात रुक्मणी विवाह में टिकावन का कार्य प्रारंभ किया गया

लेमन साहू

गुंडरदेही। ग्राम मनहोरा में 23 दिसंबर से दिन रविवार को भागवत ज्ञान यज्ञ का शुभारंभ हुआ। प्रवचनकर्ता दिनेश तिवारी पायला वाले महाराज प्रथम दिन कथा के प्रारंभ में कदम् देहुति विवाह का वर्णन किया।

आज कथा के छठवां दिन शुक्रवार को रुक्मणी विवाह कथा वर्णन किया गया जिसमें रुक्मणी विवाह में बारातियों का भव्य रूप से टीका हार माला से स्वागत किया गया।

उसके पश्चात रुक्मणी विवाह में टिकावन का कार्य प्रारंभ किया गया। जिसमें श्रद्धालुओं ने बारी बारी से टिकावन टिका। ग्रामवासी के सहयोग और चंद्राकर परिवार के सहयोग से श्रीमद् भागवत ज्ञान यज्ञ का आयोजन हो रहा है।

चंद्राकर परिवार का विशेष सहयोग ग्राम मनहोरा में भागवत ज्ञान यज्ञ के आयोजन में चंद्राकर परिवार का विशेष योगदान है जिसमें संतोष चंद्राकर, राज, शशिभूषण ,अशोक चंद्राकर ,राकेश चंद्राकर ,मुकेश चंद्राकर, धनेश्वर चंद्राकार,गैदु चंद्राकर ,हेमंत चंद्राकर ,डेमन चंद्राकर, सुनील चंद्राकर, कुलेश्वर चंद्राकर,एवं समस्त चंद्राकर परिवार उपस्थित थे।

Tags
Back to top button