वेदांता पर सिंहदेव ने सीएम से पूछा-एमओयू रद्द होने पर गरीबों का मुफ्त इलाज होगा की नहीं?

आज नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव ने मुख्यमंत्री रमन सिंह को पत्र लिखकर वेदांता कैंसर अस्पताल व अनुसंधान संस्थान के बारे में स्थिति स्पष्ट करने को कहा है।

रायपुर। वेदांता कैसर अस्पताल मामले में कांग्रेस इस मुद्दे पर लगातार राज्य सरकार की मंशा पर सवाल उठाए हैं। इसी बीच आज नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव ने मुख्यमंत्री रमन सिंह को पत्र लिखकर वेदांता कैंसर अस्पताल व अनुसंधान संस्थान के बारे में स्थिति स्पष्ट करने को कहा है।

सिंहदेव ने लिखा है कि 2011 में वेदांता को कैंसर अस्पताल के लिए उपरवारा खपरी में 50 एकड़ जमीन सिर्फ एक रुपए प्रतिवर्ष टोकन राशि पर इस शर्त के साथ वेदांता को उपलब्ध कराई थी, कि वो गरीबों का निशुल्क इलाज करेगी, लेकिन लोकार्पण के ठीक पहले ही समझौते को निरस्त कर दिया गया और अस्पताल को व्यवसायिक बनाने की मंजरी दे दी गई।

सिंहदेव ने सवाल उठाया है कि वेदांता ने कैंसर अस्पताल को सीएसआर मद से स्थापित किया है या नहीं, ये अभी तक स्पष्ट नहीं किया गया है। बातें ये भी सामने आ रही है कि एमओयू रद्द होने की वजह से गरीबों के इलाज की शर्त भी खत्म हो जाएगी। सिंहदेव ने इस मामले में राज्य सरकार को स्थिति स्पष्ट करने की मांग की है।

advt

Back to top button