बॉलीवुडमनोरंजन

एक बार फिर नील प्रभास स्टारर साहो में विलेन के रोल में आएंगे नज़र

लेकिन अब भी बॉलीवुड में बतौर हीरो के रूप में नील को बड़ी सफलता का इंतजार

बॉक्स ऑफिस पर हीरो के रोल में अपनी किस्मत आज़मा चुके नील नितिन मुकेश बीते कुछ वर्षों में हीरो के रोल न मिलने पर फिल्मों में विलेन बनकर आए हैं। पिछले महीने उनकी फिल्म दशहरा कब आई और कब गई किसी को पता नहीं चला। सलमान खान की प्रेम रतन धन पायो और गोलमाल 4 में वही विलेन थे। यही नहीं, उन्होंने तमिल फिल्मों में भी विलेन के रूप में ही जगह बनाई हैं।

2012 में अब्बास-मस्तान की प्लेयर्स में सबसे पहले खलनायक बने नील ने जब 2014 में साउथ में निर्देशक मुरुगादौस की तमिल फिल्म कथथि में विलेन का रोल निभाया तो वहां नए दरवाजे खुल गए। साहो में प्रभास के विरुद्ध नील ही नजर आएंगे। वैसे तो 2019 में उनकी दो बॉलीवुड फिल्में आनी हैं परंतु उन्हें सबसे ज्यादा आशा दो भाषाओं (हिंद और तेलुगु) में बन रही तीसरी फिल्म प्रभास स्टारर साहो से हैं। इसमें नील नेगेटिव किरदार में हैं।

उन्हें इस फिल्म से खुद के जमने की बहुत उम्मीदें हैं। सूत्रों के अनुसार भव्य बजट की साहो में नील ही प्रभास के मुख्य शत्रु बने हैं और उनकी वजह से ही फिल्म का पूरा एक्शन है। क्लाइमेक्स में दोनों के बीच जोरदार लड़ाई होती हैं। इसमें नील भले ही हार जाते हैं परंतु इससे पहले अपना असर छोड़ते हैं। फिल्म में श्रद्धा कपूर नायिका हैं।</>

सूत्रों का कहना हैं कि साहो के बाद नील तमिल की तरह तेलुगु में भी विलेन के रूप में स्थापित होकर डिमांड में आ जाएंगे। वैसे नील को बॉलीवुड में बतौर हीरो बड़ी सफलता का इंतजार हैं।अगले साल वह फिल्म फिरकी और बायपास रोड में नजर आएंगे। बायपास रोड की कथा-पटकथा उन्होंने ही लिखी हैं। वही इसके प्रोड्यूसर हैं। इस फिल्म से उनके भाई नमन निर्देशन की दुनिया में कदम रख रहे हैं।<>

Tags
advt