राष्ट्रीय

एक दिन का ‘भारत बंद’, जाने क्या चालू रहेगा और क्या बंद

प्रदर्शन कर रहे किसान संघों ने आज राष्ट्रव्यापी बंद बुलाया

नई दिल्ली: केंद्र के हालिया कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसान संघों ने आज राष्ट्रव्यापी बंद बुलाया है. बंद सुबह 11 बजे से दोपहर तीन बजे तक रहेगा. बंद के आह्वान को कुछ मजदूर संघों ने भी समर्थन देने का एलान किया है. हालांकि किसान नेताओं ने कहा है कि किसी को भी बंद में शामिल होने के लिए बाध्य नहीं किया जाएगा.

संसद से सितंबर के महीने में पास कराए गए तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों ने अपने आंदोलन को और तेज करने के लिए एक दिन का ‘भारत बंद’ बुलाया है. यह देशव्यापी बंद सुबह 11 बजे से शुरू होकर दोपहर 3 बजे तक रहेगा, क्योंकि प्रदर्शनकारियों का यह कहना है कि वे आम लोगों को लिए समस्याएं नहीं खड़ी करना चाहते हैं.

केन्द्र ने इसका समाधान निकालने की कोशिश की ताकि आंदोलन को खत्म किया जा सके. लेकिन, किसानों के साथ पांचवें दौर की बातचीत भी बेनतीजा रही. दिल्ली में पुलिस ने सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए हैं और ऐसे लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी है जो लोगों की आवाजाही रोकने या जबरदस्ती दुकानें बंद कराने की कोशिश करेंगे. राष्ट्रीय राजधानी के पास प्रदर्शनकारी किसान 26 नवंबर से आंदोलन कर रहे हैं.

दिल्ली के कौन-कौन से रास्ते हैं बंद?

दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने कहा कि सिंधु, औचंदी, पिआओ मणियारी, मंगेश, टिकरी और झड़ोदा बॉर्डर (हरियाणा की तरफ) बंद है. नेशनल हाईवे-44 को दोनों तरफ से बंद कर दिया गया है. इसलिए यात्रा करने वालों को सुझाव दिया गया कि वे लामपुर, साफियाबाद और सबोली बॉर्डर का वैकल्पिक रास्ता लें. जो लोग नोएडा की तरफ जा रहे हैं उन्हें डीएनडी से जाने को कहा गया है क्योंकि चिल्ला बॉर्डर पर नोएडा लिंक रोड को भी ट्रैफिक के लिए बंद कर दिया गया है. एनएच-24 पर गाजीपुर बॉर्डर को भी गाजियाबाद से दिल्ली के लिए ट्रैफिक को बंद किया गया है.

क्या चालू रहेगा और क्या बंद

मंगलवार को भारत बंद के दौरान जरूरी सेवाएं जैसे एंबुलेंस को नहीं रोकी जाएगी. शादी के लिए जा रहे लोगों पर भी कोई रोक होगी. बंद सुबह 8 बजे से शाम तक रहेगा, हालांकि चक्का जाम सिर्फ सुबह 11 बजे से 3 बजे तक ही रहेगा. इसके साथ ही, किसानों ने फल, दूध और सब्जियों की सेवाओं पर पूरी तरह से बंद के दौरान रोकने का फैसला किया है. आजादपुर मंडी के चेयरमेन आदिल अहमद खान ने कहा- किसानों के भारत बंद के दौरान आजादपुर मंडी कल बंद रहेगी. इसके साथ ही, शहर की अन्य मंडियां भी बंद रहेंगी.

क्या है किसानों की मांग

पंजाब और हरियाणा के किसान जो 12 दिनों से दिल्ली और उसके आसपास आकर प्रदर्शन कर रहे हैं, उनकी मांग है कि केन्द्र सरकार की तरफ से लाए गए तीनों कृषि कानूनों को सरकार वापस ले. उन्हें नए कानूनों को ‘किसान-विरोधी’ करार दिया है. किसानों ने कहा कि इससे न्यूनतम समर्थन मूल्य खत्म हो जाएगा और बड़े कॉर्पोरेट के आगे उन्हें छोड़ दिया जाएगा.

सरकार ने किसानों के प्रदर्शन पर क्या कहा?

केन्द्र ने इन तीनों कानूनों- 1. मूल्य उत्पादन और कृषि सेवा अधिनियम, 2020, 2. आवश्यक वस्तु (संशोधन) अधिनियम, 2020 और 3. किसानों के उत्पादन व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सुविधा) अधिनियम, 2020 को कृषि क्षेत्र में सुधार के लिए महत्वपूर्ण बताया. केन्द्र ने कहा कि इससे बिचौलियों की भूमिका खत्म हो जाएगी और किसानों को कहीं भी अपने उत्पादों को बेचने की छूट मिल जाएगी. सरकार ने कहा कि इस कानून को वापस नहीं लिया जाएगा लेकिन किसानों की मांग के अनुरूप इसमें संशोधन को केन्द्र सहमत हुआ है. किसानों के साथ एक और दौर की बैठक 9 दिसंबर को होगी.

कितने दलों ने किया भारत बंद का समर्थन

भारत बंद का कांग्रेस, एनसीपी, शिवसेना, आम आदमी पार्टी, टीआरएस, आरजेडी, टीएमसी, डीएमके, एसपी, जेएमएम और आईएनएलडी समेत करीब 20 दलों ने समर्थन किया है. आम आदमी पार्टी मंगलवार को आईटीओ क्रॉसिंग के पास शांतिपूर्वक प्रदर्शन कर देशव्यापी बंद कर समर्थन करेगी.

किसानों के भारत बंद का समर्थन करेगी ट्रांसपोर्ट यूनियन

ट्रांसपोर्टरों का संगठन एआईएमटीसी किसानों के भारत बंद के समर्थन में मंगलवार को देशभर में ट्रांसपोर्ट सेवाओं का परिचालन बंद रखेगा. संगठन पहले दिन से किसानों के आंदोलन का समर्थन कर रहा है. अखिल भारतीय मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस (एआईएमटीसी) देशभर के 95 लाख ट्रक परिचालकों और अन्य इकाइयों का प्रतिनिधित्व करने वाला शीर्ष संगठन है. एआईएमटीसी के अध्यक्ष कुलतरण सिंह अटवाल ने कहा, ” पहले सिर्फ उत्तर भारत के ट्रांसपोर्टरों ने भारत बंद में शामिल होने का निर्णय किया था. लेकिन, ट्रांसपोर्ट संगठनों और यूनियनों की बैठक के बाद अब यह निर्णय लिया गया है कि देश के अन्य सभी हिस्सों में भी भारत बंद का समर्थन किया जाएगा. इसके चलते आठ दिसंबर 2020 को देशभर में ट्रकों का परिचालन निलंबित रहेगा.”

रेलवे यूनियन एआईआरएफ ने किया ‘भारत बंद’ का समर्थन

ऑल इंडिया रेलवेमेन फेडरेशन (एआईआरएफ) ने सोमवार को प्रदर्शनकारी किसानों द्वारा नए कृषि कानूनों के विरोध में आठ दिसंबर को बुलाए गए ‘भारत बंद’ को अपना समर्थन दिया है. एआईआरएफ के महासचिव शिवगोपाल मिश्रा ने सिंघु बॉर्डर जाकर प्रदर्शनकारी किसानों से मुलाकात की और उन्हें आश्वासन दिया कि रेलवे यूनियन के सदस्य इस लड़ाई में उनके साथ हैं. मिश्रा ने कहा, ‘ हमने भारतीय रेलवे के अपने सभी संबंद्ध सहयोगियों को पत्र लिखकर किसानों की जायज मांगों को पूरा करने के संघर्ष में उनका साथ देने के वास्ते आठ दिसंबर को बुलाए गए भारत बंद का समर्थन करने को कहा है. मैंने सभी संबंद्ध सहयोगियों को केंद्र सरकार की किसान-विरोधी नीतियों के खिलाफ पहले ही भोजनावकाश के घंटे के दौरान धरना-प्रदर्शन और रैली आयोजित करने की सलाह दी है। मुझे पूरी उम्मीद है कि सरकार किसानों की जायज मांगों का संज्ञान लेकर उन्हें जल्द से जल्द पूरा करेगी.’

आइये राज्यवार जानते हैं पंजाब, हरियाणा और हिमाचल में क्या बंद और क्या चालू रहेगा:

हिमाचल में बसें गाड़ियां चलेंगी

शिमला में दुकानें भी रहेंगी खुली

व्यापार मंडल शिमला ने बन्द से दूर रहने का किया ऐलान

सिर्फ सीपीआईएम पार्टी व कांग्रेस पार्टी करेगी प्रदर्शन

हिमाचल मे होटल खुले रहेंगे पंजाब

पंजाब में कल बसें बंद रहेंगी

फिरोजपुर डीआरएम ने जानकारी दी है कि पंजाब में रेल चलेंगी

पंजाब के शहरों की मार्केट पूर्ण तौर पर बंद रहेगी

कल पंजाब में पैटरोल पंप बंद रहेंगे

3 बजे तक एसजीपीसी के सभी स्कूल व कालेज, दफ्तर सभी बंद रहेंगे

हरियाणा हरियाणा खापों ने कहा है कि चाय की दुकान भी नहीं खुलने देंगे सब कुछ बंद करवाएंगे

ट्रांसपोर्टर व ट्रक यूनियन बंद रहेंगी हरियाणा रोडवेज बसें चलेंगी

अभी तक रोडवेज को बंद करने कोई आदेश नही मिला व्यापार मंडल ने फैसला लिया है कि 12 बजे तक दुकाने बंद करेंगे

होटल भी बंद रहेंगे, 12 बजे तक पैटरोल पंप 3 बजे तक बंद रहेंगे

सबजी मंडी बंद रहेगी दूध वाले सुबह सुबह दूध सप्लाई कर देंगे बाद में नही

हरियाणा रोडवेज का कहना है कि जिन रूटों पर जाम की सूचना मिलेगी उन रूटों पर बस बन्द कर दी जाएगी.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button