भाटापारा को पृथक जिला बनाए जाने की मांग को लेकर का एक दिवसीय धरना -प्रदर्शन

-अमृत लाल साहू

भाटापारा :

अधिवक्ता संघ भाटापारा के द्वारा सुभाष बाजार भाटापारा में किया गया । इस धरने में नगर अधिवक्तागणो के साथ जिला निर्माण संघर्ष समिति के लोग प्रातः 11 बजे से दोप 3 बजे तक बैठे रहे । धरने को विभिन्न दलों के नेताओं सहित सभी वर्ग के लोगों ने खुलकर समर्थन दिया ।

भाटापारा जिले की माँग 28 वर्ष पुरानी है, पहले भी अधिवक्ता संघ भाटापारा कई बार भाटापारा को जिला बनाने के लिए राज्य शासन के समक्ष अपनी गुहार लगा चुका है लेकिन आज पर्यंत इस पर कोई कार्यवाही राज्य शासन के द्वारा नहीं की गई है । राज्य शासन की लगातार उपेक्षा से व्यथित होकर यहाँ के अधिवक्तागणों ने इस बार जंगी प्रदर्शन किया और दोपहर 3 बजे मुख्यमंत्री के नाम अनुविभागीय अधिकारी को ज्ञापन सौंपा ।

जिला निर्माण का मुद्दा दिनों दिन गर्माता जा रहा है और इस बात से कतई इंकार नहीँ किया जा सकता कि आगामी विधानसभा चुनाव में भाटापारा जिला निर्माण का मुद्दा ही प्रमुख होगा । नेता प्रतिपक्ष टी.एस. सिंहदेव ने भाटापारा प्रवास के दौरान भाटापारा को जिला बनाने की मांग को कांग्रेस के घोषणापत्र में शामिल करने की बात कहकर भाटापारा निवासियों मैं नई उम्मीद जगा दी है। इसके पहले भी पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी और अध्यक्ष भूपेश बघेल द्वारा सरकार आने पर भाटापारा को जिला बनाने की बात कही जा चुकी हैं।

जिले के नाम पर 3 बार भाटापारा को छले जाने के बाद से यहाँ की जनता आक्रोशित औरआंदोलित हो गई है जिसकी अनदेखी राजनीतिक दलों को मँहगा पड़ेगा।

धरने में नगर के अधिवक्ता गणों में बी माधव राव, राधेश्याम वर्मा, नियाजी खान,सुकृत साहू, जी.डी. मानिकपुरी ,गोपाल शर्मा ,अनिल मिश्रा ,विजय साहू, कमलेश पांडे नरेंद्र साहू ,भूपेंद्र साहू ,हेमंत साहू बिजेश मिश्रा के साथ संघर्ष समिति के- बलदेव भारती, नंदकिशोर शर्मा,सुशील शर्मा,देवेंद्र भृगु,पत्रकार- संतोष अग्रवाल ,लक्ष्मण किंगरानी राजकुमार मल,शंकर सोनी, राजीव तिवारी, विनोद शर्मा ,अमृत लाल साहू ,अजय अमृतांशु, संजय श्रीवास, विनोद केशरवानी,नेश सोनी,श्यामसुंदर अवस्थी बसंत भृगु ,नरेश गोयल सैकड़ों की संख्या में जनसमूह उपस्थित थे।

Tags
Back to top button