छत्तीसगढ़

सर्चिंग के दौरान एक लाख का इनामी नक्सली नंदा कुंजाम गिरफ्तार

हत्या, लूट, आगजनी, पुलिस पार्टी पर फायरिंग जैसे 14 गंभीर मामलों में आरोपी

दंतेवाड़ा: हत्या, लूट, आगजनी, पुलिस पार्टी पर फायरिंग जैसे 14 गंभीर मामलों में आरोपी व नक्सलियों की मलंगीर एरिया कमेटी में पीरनार पंचायत कमेटी के अध्यक्ष नंदा कुंजाम को गिरफ्तार किया गया है.

एक लाख का ईनामी नक्सली नंदा कुंजाम को किरन्दुल थाना क्षेत्र में पेरपा के जंगले से DRG जवान और किरन्दुल थाने के जवानों को सर्चिंग के दौरान गिरफ्तार किया गया. नक्सली विरोधी अभियान के तहत 23 जुलाई को पुलिस अनुविभागीय अधिकारी किरन्दुल देवांश सिंह राठौर के हमराह निरीक्षक दयाकिशोर बरवा, थाना प्रभारी किरन्दुल, जिला बल एवं डीआरजी बल के सचिंग के दौरान ग्राम पीरनार, पेरपा के बीच जंगल में नंदा कुंजाम उर्फ जीबरा को गिरफ्तार करने में सफलता पाई.

गिरफ्तार माओवादी ने खुलासा किया कि 16 जून को दन्तेवाड़ा से 4 व्यक्ति किरन्दुल ग्राम पीरनार पहुंचकर नक्सली कमाण्डर देवा, कमलेश, जोगी, राजे, सोमडू, गुड्डी के उपस्थिति में मीटिंग लिये थे.

मीटिंग में पुलिस में भर्ती स्थानीय आत्मसमर्पित नक्सली की सूची बनाए जाने की जानकारी के साथ वर्तमान में IG बस्तर एवं SP दन्तेवाड़ा द्वारा चलाये जा रहे लोन वर्राटू अभियान के तहत् लगातार नक्सलियों के आत्मसमर्पण किये जाने से ग्रामीणों के बीच नक्सलियों का जनाधार कम होता जा रहा है.

ऐसे में अंदरूनी क्षेत्रों तक आश्रम, स्कूल, रोड़, पंचायत कार्य, मनरेगा कार्य कर रहे हैं, जिस पर रोक लगाने के लिए ठेकेदार रविन्द्र सोनी व स्थानीय लोग अजय, जोगा, भीमा कांचा को टारगेट करने की तय की गई.

इसके अलावा इन लोगों से मिलने वालों उठाकर जनअदालत में मौत के घाट उतारने और दबाव बनाने के लिए इस क्षेत्र के जवानों का पर्चा निकाल कर उनके परिजनों की हत्या करने का निर्णय भी लिया गया है.

पुलिस के अनुसार, गिरफ्तार माओवादी वर्ष 2011 से नक्सली घटनाओं में संलिप्त है, जिसमें पुलिस जवानों पर घात लगाकर हमला कर शहीद करने के साथ मतदान दलों और पुलिस पार्टी पर हमला कर ईवीएम लूटने तक की वारदात में शामिल था.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button