दिलीप कुमार की अंतिम यात्रा में सिर्फ 20 लोग ही होंगे शामिल

फैजल फारूकी ने दिलीप कुमार के ट्विटर हैंडल पर दी जानकारी

मुंबई:मशहूर फिल्म अभिनेता दिलीप कुमार के की अंतिम यात्रा में सिर्फ 20 लोग ही शामिल हो सकेंगे. कोरोना गाडइलाइंस के तहत अंतिम यात्रा में सिर्फ 20 लोग ही शामिल होंगे. दिलीप कुमार ने 98 साल की उम्र में पीडी हिंदुजा अस्पताल में सुबह 7:30 बजे अंतिम सांस ली.

ख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने सायरा बानो को सांत्वना दी
मुंबई में दिग्गज अभिनेता दिलीप कुमार के निधन पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने सायरा बानो को सांत्वना दी. वे उनके आवास पर पहुंचे थे. अभिनेता के आवास पर ही मौजूद अभिनेता धर्मेंद्र कहते हैं, ”मैंने आज अपने भाई को खो दिया है. मैं उनकी यादों के साथ दिल में रहूंगा.”

दिलीप कुमार के अंतिम दर्शन के लिए पहुंचे शाहरुख खान
दिग्गज अभिनेता और सिनेमा जगत के आइकॉन दिलीप कुमार का बुधवार को 98 साल की उम्र में निधन हो गया. बॉलीवुड के कई सेलेब्‍सउन्हें अंतिम सम्मान देने के लिए मुंबई में उनके घर भी पहुंचे.

शबाना आजमी, विद्या बालन और उनके पति सिद्धार्थ रॉय कपूर के बाद अब शाहरुख खान पहुंचे हैं. दिलीप और सायरा उन्‍हें अपने बेटे की तरह मानते थे. शाहरुख को देखते ही सायरा बानो खुद को संभाल नहीं पाई और रो पड़ी. शाहरुख ने उन्‍हें संभाला और वहीं उनके साथ जमीन पर बैठ गये.

अंतिम दर्शन के लिए पहुंचे ये सितारे
शबाना आजमी के बाद विद्या बालन अपने पति सिद्धार्थ रॉय कपूर के साथ दिलीप कुमार के अंतिम दर्शन के लिए पहुंची है. voompla ने अपने इंस्‍टाग्राम पेज पर वीडियो शेयर किया है.

इमरान खान ने जताया दुख
पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भी दिलीप कुमार के निधन पर दुख प्रकट किया है. उन्‍होंने ट्वीट किया, दिलीप कुमार के निधन की खबर सुनकर दुख हुआ. मैं परियोजना शुरू होने पर SKMTH के लिए धन जुटाने में मदद करने के लिए अपना समय देने में उनकी उदारता को कभी नहीं भूल सकता. यह सबसे कठिन समय है – पहले 10% धन जुटाने के लिए और पाक और लंन में उनकी उपस्थिति ने बड़ी रकम जुटाने में मदद की.

लता मंगेशकर ने कहा – यूसुफ़ भाई क्या गए, एक युग का अंत हो गया…
स्‍वर कोकिला लता मंगेशकर ने दिलीप कुमार के निधन पर शोक प्रकट किया है. उन्‍होंने एक के बाद कई ट्वीट किये हैं और तसवीरें भी शेयर की है. उन्‍होंने लिखा, यूसुफ़ भाई आज अपनी छोटीसी बहन को छोड़के चले गए.. यूसुफ़ भाई क्या गए, एक युग का अंत हो गया. मुझे कुछ सूझ नहीं रहा. मैं बहुत दुखी हूँ, नि:शब्द हूँ.कई बातें कई यादें हमें देके चले गए.
एक और ट्वीट में उन्‍होंने लिखा, यूसुफ़ भाई पिछले कई सालों से बिमार थे, किसीको पहचान नहीं पाते थे ऐसे वक़्त सायरा भाभीने सब छोड़कर उनकी दिन रात सेवा की है उनके लिए दूसरा कुछ जीवन नहीं था. ऐसी औरत को मैं प्रणाम करती हूँ और यूसुफ़ भाई कीं आत्मा को शान्ति मिले ये दुआ करती हूँ.

अमिताभ बच्‍चन ने दिलीप कुमार संग शेयर की तसवीर
अमिताभ बच्‍चन ने दिलीप कुमार के साथ अपनी एक तसवीर शेयर की है. उन्‍होंने कैप्‍शन में लिखा, मेरे आदर्श दिलीप साहब .. खो गए .. पहले कभी नहीं बाद में .. “एक महाकाव्य युग ने पर्दे खींचे हैं .. फिर कभी नहीं होगा” शांति और दुआ…

पीएम मोदी ने की सायरा बानो से फोन पर बात
पीएम मोदी ने दिलीप कुमार की पत्‍नी सायरा बानो से फोन पर बात की और उन्‍हें ढांढस बंधाया है. उन्‍होंने ट्वीट करके भी दिग्‍गज अभिनेता के निधन पर दुख जताया है.

लोगों के दिलों में हमेशा जिंदा रहेंगे दिलीप कुमार : केजरीवाल
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को अभिनेता दिलीप कुमार के निधन पर शोक व्यक्त किया और उनके निधन को बॉलीवुड में एक युग का अंत बताया.केजरीवाल ने ट्वीट किया, ” हिंदी फ़िल्म जगत के मशहूर अभिनेता दिलीप कुमार जी का चले जाना बॉलीवुड के एक अध्याय की समाप्ति है. यूसुफ़ साहब का शानदार अभिनय, कला जगत में एक विश्वविद्यालय के समान था. वह हम सबके दिलों में ज़िंदा रहेंगे. ईश्वर दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान दें. विनम्र श्रद्धांजलि .”

रामनाथ कोविंद ने कहा- एक युग का अंत
राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दिलीप कुमार के निधन पर शोक प्रकट करते हुए लिखा, दिलीप कुमार ने अपने आप में उभरते भारत के इतिहास को संक्षेप में प्रस्तुत किया. थेस्पियन का आकर्षण सभी सीमाओं को पार कर गया और उसे पूरे उपमहाद्वीप में प्यार किया गया. उनके निधन से एक युग का अंत होता है. दिलीप साहब भारत के दिल में हमेशा जिंदा रहेंगे. परिवार और अनगिनत प्रशंसकों के प्रति संवेदना.

अमिताभ बच्‍चन ने जताया दुख
अमिताभ बच्‍चन ने दिलीप कुमार के निधन पर संवेदना व्‍यक्‍त की है. उन्‍होंने ट्वीट किया, एक इंस्टीट्यूट चला गया… भारतीय सिनेमा का इतिहास जब भी लिखा जाएगा, वह हमेशा ‘दिलीप कुमार से पहले और दिलीप कुमार के बाद’ लिखा जाएगा…उनकी आत्मा की शांति के लिए मेरी दुआएं और परिवार को इस नुकसान को सहन करने की शक्ति… गहरा दुख हुआ.

दिलीप कुमार ने फिल्म ज्वार भाटा से शुरू किया फिल्मी सफर
दिलीप कुमार की फिल्मी करियर की शुरुआत 1944 में फिल्म ज्वार भाटा से की थी. इस फिल्म से उन्हें कोई पहचान नहीं मिली. कुछ और असफल फिल्मों के बाद 1947 में जुगनू फिल्म में उन्होंने नूरजहां के साथ अभिनय किया, जो बॉक्स ऑफिस पर उनकी पहली बड़ी हिट बन गई. उनकी अगली प्रमुख हिट 1948 की फिल्में शहीद और मेला थीं.

60 सालों तक रहा फिल्मी दुनिया ने नाता
दिलीप कुमार ने करीब 60 साल तक भारतीय फिल्मों में काम किया है. उन्होंने मुगल ए आजम, नया दौर, अंदाज, यहूदी, मधुमति, लीडर, क्रांति, सौदागर जैसी बड़ी फिल्मों में अपने अभिनय का लोहा मनवाया. इनका असली नाम मोहम्मद युसूफ खान (Mohammed Yusuf Khan) था. इन्हें फिल्म इंडस्ट्री का पहला खान भी कहा जाता है.

फैजल फारूकी ने दिलीप कुमार के ट्विटर हैंडल पर दी जानकारी
दिलीप कुमार के ट्विटर हैंडल पर उनके मित्र फैजल फारूकी ने उनके निधन की सूचना दी. उन्होंने लिखा कि भारी मन और गहरे दुख के साथ, मैं कुछ मिनट पहले हमारे प्यारे दिलीप साहब के निधन की घोषणा करता हूं. हम ईश्वर की ओर से हैं और उसी की ओर लौटते हैं

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button