ममता बनर्जी के लिए केवल 27 प्रतिशत वोट ही अहम: BJP

मुहर्रम के जुलूस के साथ दुर्गा मूर्ति विसर्जन के मसले पर पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार पर कलकत्‍ता हाई कोर्ट की सख्‍त टिप्‍पणी के बाद बीजेपी ने राज्‍य सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि ममता बनर्जी ने हमेशा तुष्टिकरण की राजनीति की है.

ममता बनर्जी के लिए केवल 27 प्रतिशत वोट ही अहम हैं. बीजेपी के प्रवक्‍ता संबित पात्रा ने बातचीत करते हुए कहा कि ममता बनर्जी के लिए न कानून बड़ा है और न ही हाई कोर्ट बड़ा है.

संबित पात्रा ने कहा, ‘ममता बनर्जी तुष्टिकरण की राजनीति को कब छोड़ेंगी. उन्हें मुस्लिम वोट बैंक की चिंता है, पर उन्हें पश्चिम बंगाल की संस्कृति से कोई मतलब नहीं है.’

उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी जिस तरह से पश्चिम बंगाल में सरकार चला रही हैं, मानो वह कानून और हाई कोर्ट से ऊपर हो गई हैं.

ममता सरकार को पहले भी हाई कोर्ट से ऐसे मामलों में फटकार मिलती रही है, पर ये आदतों से बाज नहीं आ रही हैं.

उल्‍लेखनीय है कि पश्चिम बंगाल में मुहर्रम पर दुर्गा मूर्ति विसर्जन पर रोक लगाने के मामले मे कोलकाता हाई कोर्ट ने ममता बनर्जी की सरकार को फटकार लगाई है.

कोलकाता हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस की बेंच ने कहा, ‘कुछ भी गलत होने की आशंका के आधार पर धार्मिक मामलों पर बंदिश नहीं लगा सकते हैं.’

कोर्ट ने ममता सरकार को फटकार लगाते हुए कहा, ‘आपके पास अधिकार हैं, पर असीमित नहीं. आप सभी नागरिकों को बराबरी की नजरों से देखें.’

मालूम हो कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मुहर्रम पर दुर्गा मूर्ति के विसर्जन पर रोक लगा दी थी.

दरअसल इस साल भी पिछले साल की तरह ही मोहर्रम और दुर्गा पूजा मूर्ति विसर्जन एक ही दिन पड़ रहे हैं. इस कारण राज्‍य सरकार ने मूर्ति विसर्जन पर रोक लगा दी थी.

[amazon_link asins=’B00YOQ2RY8′ template=’ProductLink’ store=’clipper28-21′ marketplace=’IN’ link_id=’fc40a01d-9ea7-11e7-85af-877201a4a30c’]

Back to top button