शराब दुकान खोलने से गरीब मजदूर महिलाओं की बढ़ेगी परेशानी- ढालेंद्र कुमार

देश में लॉक डाउन की अवधि 3 मई तक

बालोद : जिले के अंतिम छोर में बसे ग्राम पीपरछेड़ी निवासी ढालेंद्र कुमार ने कहा प्रदेश सरकार 21 अप्रैल से शराब दुकान खोलने की तैयारी कर रही जबकि लॉक डाउन की अवधि 3 मई तक है तो शराब दुकान खोलने में जल्दबाज़ी क्यो, क्या सरकार गरीब मजदूर वर्ग के लोगों का घर बर्बाद करना चाहती हैं।

कोरोना जैसे महामारी से गरीब मजदूर वर्ग के परिवार ले देकर अपना परिवार चला रहे हैं अगर शराब दुकान खुलता है तो सब से ज्यादा परेशानीयो का सामना गरीब मजदूर वर्ग की महिलाओं को करना पड़ेगा।

सरकार यह भी जानती है कि ऐसे कई शराबी है जो शराब के लिए अपने घर का राशन तक बेच देते हैं फिर भी सरकार को शराब बेचने की चिंता है ना की गरीब मजदूर वर्ग की महिलाओं एवं बच्चों की। यदि लॉक डाउन के पूर्व शराब दुकान खुलती है तो लॉक डाउन का उल्लंघन होना भी लाजमी है।

Tags
Back to top button