छत्तीसगढ़

जेईई और नीट परीक्षाओं का विरोध : बिलासपुर में कांग्रेस का छात्र सत्याग्रह आंदोलन,राष्ट्रपति के नाम सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन सौंपा

बिहार और असम राज्य बाढ़ का सामना कर रहे हैं, सभी छात्र इसका विरोध कर रहे हैं, हम कांग्रेस जन छात्रों की मांगों का समर्थन कर रहे हैं।

रायपुर/बिलासपुर : कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच केन्द्र सरकार जेईई और नीट परीक्षाओं का आयोजन कर रही है। जिसका देश भर में विरोध शुरु हो गया है।एआईसीसी के निर्देश पर बिलासपुर जिले कांग्रेस ने नेहरू चौक में छात्र सत्याग्रह आंदोलन किया जिसमें जिला एन एस यु ई ने बड़ी संख्या में में कांग्रेस ने भी जेईई और नीट की परीक्षाओं के विरोध में उपस्थित हुए।

जिलाध्यक्ष विजय केशरवानी ने कहा कि नोटबन्दी ,देश के आर्थिक व्यवस्था खत्म करने वाली केंद्र की सरकार ने ऐसे विकट संकट कोरोना काल मे बच्चों की परीक्षा अयोजिय कराकर जान जोखिम में दाल रही है ,आज जब बस ट्रैन नही चल रही,बाढ़ की गंभीर हालत में परीक्षा लेने का निर्णकय जनविरोधी है, प्रमोद नायक शहर अध्यक्ष ने कहा कि छत्तीसगढ़ में सिर्फ 3 सेन्टर दिए है और यह के बच्चे जब बस ट्रैन नही चल रही है तो कैसे परीक्छा केंद्र में पहुचेंगे,

प्रदेश कांग्रेस विधि विभाग के अध्यक्ष ने कहा

संदीप दुबे प्रदेश कांग्रेस विधि विभाग के अध्यक्ष ने कहा कि हम परीक्षा नही लेने की बात नही कर रहे है हम कह रहे है कि कुछ माह स्थगित रखे और उन्होंने बताया कि आज 6 राज्यो ने जिसमे छत्तीसगढ़ सरकार ने भी खाद्य मंत्री अमरजीत भगत की तरफ से पुनर्निलोकन याचिका सुप्रीम कोर्ट में दायर की है,

हम सड़क से सुप्रीम कोर्ट तक बच्चों की रक्षा की लड़ाई लड़ रहे है,एन एस यु ई के जिलाध्यक्ष तंमीत छाबरा ने कहा कि छात्र भयभीत है कि कैसे परीक्षा देंगे ,एन स यु ई के प्रदेश सचिव लकी मिश्र ने कहा कि छात्र के जीवन को खिलवाड़ न करे केंद्र की सरकार एवं कहा कि कि सत्ता के घमंड में मोदी सरकार द्वारा छात्रों की मांगों को अनदेखा किया जा रहा है।

जेईई और नीट परीक्षाओं का विरोध : बिलासपुर में कांग्रेस का सत्याग्रह आंदोलन,राष्ट्रपति के नाम सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन सौंपा

मेडिकल और इंजीनियरिंग में एडमिशन के लिए लाखों छात्र को इन परीक्षाओं में भाग लेना है, अगर एक साथ लाखों छात्र बैठेंगे तो ना जाने संक्रमण का क्या विस्तार होगा। छात्रों को खतरे में डाले जाने का कांग्रेस पार्टी विरोध करती है। बिहार और असम राज्य बाढ़ का सामना कर रहे हैं, सभी छात्र इसका विरोध कर रहे हैं, हम कांग्रेस जन छात्रों की मांगों का समर्थन कर रहे हैं।

आज के धरना के बाद राष्ट्रपति के नाम सिटी मजिस्ट्रेट को पैदल चलकर रैली के रूप में ज्ञापन सौंपा जिसमे ग्रामीण अध्यक्ष विजय केशरवानी,शहर अध्यक्ष प्रमोद नायक, एनएसयूआई ज़िला अध्यक्ष तनमीत छाबड़ा,विधि प्रकोष्ठ अध्यक्ष संदीप दुबे,शहर प्रवक्ता ऋषि पांडेय,ब्लाक अध्यक्ष विनोद साहू,कार्यालय सचिव सुभाष ठाकुर,अनिल शुक्ला,अनिल यादव,अर्जुन सिंह,एनएसयूआई प्रदेश अध्यक्ष लक्की मिश्रा,अजय काले,अल्ताफ अली,सिद्धांत बत्रा,विवेक साहू,नाजिम खान,धनन्जय यादव,आदि उपस्थित थे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button