छत्तीसगढ़

भारतीय सेना के कमांडर सहित दो सैनिकों के शहीद होने का विरोध

विरोध में चीनी राष्ट्रपति जिनपिंग सहित चीनी झंडे का दहन किया

जांजगीर-चाम्पा: नगर के कांग्रेसजन स्थानीय कचहरी चौक में पूर्व प्रदेश कांग्रेस महामंत्री सुश्री शशिकांता राठौर, प्रवक्ता रफीक सिद्दिकी, पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष रमेश पैगवार, नगर पालिका अध्यक्ष भगवान दास गढ़ेवाल एवं अन्य कांग्रेस जनों की उपस्थिति में भारतीय सेना के कमांडर सहित दो सैनिकों के शहीद होने का विरोध किया गया।

विरोध में चीनी राष्ट्रपति जिनपिंग सहित चीनी झंडे का दहन करते हुए चीन मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए केन्द्र की मोदी सरकार की विदेश नीति एवं कूटनीति पर पुर्न विचार करते हुए चीन के विरूद्ध कठोर कार्यवाही करने की बात कही।

नगर कांग्रेस अध्यक्ष विवेक सिंह सिसोदिया ने कहा कि 40 वर्ष पूर्व चीन की सेना ने भारतीय सेना की जान ली थी लेकिन केन्द्र की मोदी नेतृत्व वाली भाजपा सरकार की कमजोर विदेश नीति एवं रक्षा नीति के चलते आज देश की सीमाएं असुरक्षित होते जा रही हैं ।

विगत 6 महिने से भारत चीन सीमा पर चीनी सैनिकों की घुसपैठ जारी होने के बावजूद चीन के नापाक इरादों को ना भापते हुए सरकार द्वारा उचित समय पर निर्णय न लेने की वजह से आज भारत के वीर सैनिकों को शहीद होना पड़ा । देश की जनता सैनिकों की हत्या को बर्दाश्त नहीं करेगी ।

इस दौरान प्रमुख रूप से प्रवक्ता शिशिर द्विवेदी , अजीत सिंह राणा , परमेश्वर निर्मले , ऋषि शर्मा , गिरधारी यादव , हृषिकेश उपाध्याय , हीरा उपाध्याय , भोलू यादव , हरदेव टंडन , अनिल राठौर , चुन्नू थवाईत , पार्षदगण रामविलास राठौर , विष्णु यादव , रामकुमार यादव , संतोष गढ़ेवाल , देव कुमार पाण्डेय , सत्यप्रकाश मुन्ना सिंह , अनिल राठौर , बसंत अग्रवाल , राजू शर्मा , गोविन्दा परमहंस , अतिक कुरैशी , गज्जू भाई , दीपक राज आसना सहित अन्य कांग्रेसजन उपस्थित थे ।

Tags
Back to top button