पत्थलगड़ी विवाद में सरकार को पक्ष रखने का आदेश

बिलासपुर। हाईकोर्ट ने पत्थलगड़ी विवाद में आदिवासियों के खिलाफ दर्ज अपराध को निरस्त करने पेश याचिका में शासन को अपना पक्ष रखने का आदेश दिया है। जशपुर जिले के बगीचा तहसील स्थित ग्राम नारायणपुर के बाहर ग्रामीणों द्वारा पत्थल लगाकर बाहरी लोगों को प्रवेश नहीं देने, गांव का अपना कानून बनाने व विवाद गांव में ही निपटाने सहित अन्य बात लिखी गई।

आदिवासियों के सरकार के कानून को नहीं मानने की बात से प्रशासन में हड़कंप मच गया। अप्रैल में इस पत्थलगड़ी के विरोध में सद्भावना रैली निकाली गई। रैली में शामिल बाहरी लोगों ने पत्थल को तोड़ दिया। इसका ग्रामीणों ने विरोध किया। इस दौरान ग्राम तलिया में निर्माणाधीन पत्थल को तोड़ा गया।

इससे आक्रोशित ग्रामीणों ने तोड़फोड़ करने वालों पर कार्रवाई के लिए एसडीएम व अन्य अधिकारियों से मांग की। इसके दो दिन बाद पुलिस ने नारायणपुर के पत्थलगड़ी समर्थक आदिवासियों के खिलाफ वाहन में तोड़फोड़, लोगों को बंधक बनाने व शासकीय कार्य में बांध पहुंचाने के आरोप में अपराध पंजीबद्घ किया।

इस कार्रवाई के खिलाफ ग्रामीणों ने हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की है। हाईकोर्ट ने याचिका में सुनवाई उपरांत शासन को दो सप्ताह में अपना पक्ष रखने का आदेश दिया है।

Back to top button