ग्राहक को 6% ब्याज के साथ 30000 रुपये क्षतिपूर्ति एवं 587500 रु देने का आदेश

उपभोक्ता फोरम ने दिया बड़ा फैसला

बालोद: प्रस्तुत परिवाद के अनुसार सहारा माइनर स्कीम (पॉलिसी) के तहत सहारा क्रेडिट को – ऑपरेटिव सोसायटी लि. के द्वारा अपने एजेंट के माध्यम से प्रतिदिन 500 रु कुल 500000 रु जमा करने पर 587500.रु एक वर्ष में परिवादी को भुगतान होना था,

नियत समयावधि में उपरोक्त राशि की भुगतान करने में शाखा प्रबंधक के द्वारा आनाकानी किये जाने पर परिवादी ने अपने अधिवक्ता भेषकुमार साहू, छन्नू साहू के माध्यम से जिला उपभोक्ता विवाद प्रतितोषण फोरम दुर्ग में परिवाद पेश किया था।

फोरम के विद्वान अध्यक्ष और सदस्यों ने अधिवक्ता के द्वारा प्रस्तुत साक्ष्य का न्यायिक अवलोकन कर परिवादी को कुल. 650000 रु क्षतिपूर्ति सहित देने का आदेश प्रदान किया है। सहारा क्रेडिट को – ऑपरेटिव सोसायटी के मैनेजर ने फोरम के उक्त आदेश को हल्के में लेकर आदेशित राशि का भुगतान नही कर रहा था, जिसे फोरम ने बहुत ही गंभीर होना मान कर उनके खिलाफ में गिरफ़तारी वारंट जारी किया गया था,

तब जेल जाने से बचने के लिये तत्काल 3 लाख रु का भुगतान चेक से कर शेष राशि के लिये फोरम से मोहलत की मांग करने पर ही मैनेजर को राहत मिल पाई इस आदेश के बाद उपभोक्ता में खुशी की माहौल बना हुआ है …बहुत से पीड़ित उपभोक्ताओं ने साहू अधिवक्ता को बधाई दिए हैं।

Back to top button