नक्सल प्रभावित अंतिसवेदनशील ग्राम बेचा में ‘‘कम्युनिटी पुलिसिंग’’ कार्यक्रम का आयोजन

पुलिस एवं जनता के बीच आपसी समन्वय स्थापित करने तथा उनकी समस्याओं का निराकरण करने नक्सल प्रभावित अंतिसवेदनशील ग्राम बेचा में ‘‘कम्युनिटी पुलिसिंग’’ कार्यक्रम का आयोजन किया गया

दिनांक-14.06.2021

नारायणपुर : शासन द्वारा ग्राम कड़ेमेटा में पुलिस कैम्प खोलने के बाद पुलिस द्वारा आसपास क्षेत्र में लगातार भ्रमण करने के दौरान क्षेत्र के ग्रामीणों द्वारा अपनी मुलभूत समस्याओं अवगत कराया जा रहा था। उक्त क्षेत्र पुलिस जिला नारायणपुर तथा राजस्व जिला कोण्डागांव एवं बस्तर होने के कारण मोहित गर्ग, पुलिस अधीक्षक नारायणपुर के प्रयास से ग्रामीणों की समस्याओं को प्रशासन के समक्ष रखने पहल किया गया।नक्सल प्रभावित अंतिसवेदनशील ग्राम बेचा में ‘‘कम्युनिटी पुलिसिंग’’ कार्यक्रम का आयोजन

जिससे नक्सल प्रभावित अतिसंवेदशील ग्राम बेचा में ग्रामीणों की समस्याओं के निराकरण के लिए नारायणपुर पुलिस द्वारा पहल करने पर पहली बार ‘‘कम्युनिटी पुलिसिंग‘‘ कार्यक्रम का आयोजन किया गया। आम जनता की समस्याओं से रू-बरू होने

नक्सल प्रभावित अंतिसवेदनशील ग्राम बेचा में ‘‘कम्युनिटी पुलिसिंग’’ कार्यक्रम का आयोजनदिनांक-13.06.2021 को सुन्दरराज पी.,पुलिस महानिरीक्षक बस्तर रेंज,रजत बंसल कलेक्टर बस्तर,पुष्पेन्द्र कुमार मीणा कलेक्टर कोण्डागांव,मोहित गर्ग, पुलिस अधीक्षक नारायणपुर कम्युनिटी पुलिसिंग के तहत् ग्राम बेचा, कड़ेनार, टेटम एवं आसपास गांव के ग्रामीणजनों से मुखातिब होने ग्राम बेचा पहुंचे।नक्सल प्रभावित अंतिसवेदनशील ग्राम बेचा में ‘‘कम्युनिटी पुलिसिंग’’ कार्यक्रम का आयोजन

ग्रामीणों द्वारा प्रशासन के समक्ष

ग्रामीणों द्वारा प्रशासन के समक्ष मुख्य रूप से क्षेत्र में सड़क, पुलिया, अस्पताल, आंगनबाड़ी, देवगुड़ी, मोबाईल टावर, हेण्डपम्प की सुविधा उपलब्ध कराने की मांग रखी गयी। जिस पर कलेक्टर बस्तर एवं कोण्डागांव के द्वारा शिविर में उपस्थित विभागीय अधिकारियों को सुविधा उपलब्ध कराने निर्देशित किया गया।

आम जनता से शिविर में उपस्थित अधिकारियों द्वारा शासन की विभिन्न योजनाओं की जानकारी देते हुए उनका लाभ उठाने एवं आत्मनिर्भर होकर परिवार के जीवन स्तर को ऊंचा उठाने प्रेरित किया गया तथा क्षेत्र में विकास कार्य के दौरान आम जनता को प्रशासन एवं पुलिस का सहयोग करने अपील किया गया।नक्सल प्रभावित अंतिसवेदनशील ग्राम बेचा में ‘‘कम्युनिटी पुलिसिंग’’ कार्यक्रम का आयोजन

क्षेत्र के विकास कार्य में पुलिस एवं प्रशासन को पूर्ण सहयोग प्रदान करने ग्रामीणों का जनमत प्राप्त हुआ। नक्सल प्रभावित क्षेत्र के ग्रामीण पहले शासन एवं पुलिस का विरोध करते थे,अब शासन एवं पुलिस के साथ मिलकर क्षेत्र का समग्र विकास करने को तत्पर है। समाज के कुछ लोग मुख्यधारा से भटक कर नक्सली संगठन में चले गये है उनको आत्मसमर्पण कर समाज की मुख्यधारा में जुड़ने और समर्पण नीति के अंतर्गत परिवार के साथ सामान्य जीवन यापन करने हेतु अपील किया गया।नक्सल प्रभावित अंतिसवेदनशील ग्राम बेचा में ‘‘कम्युनिटी पुलिसिंग’’ कार्यक्रम का आयोजन

पुलिस विभाग द्वारा कम्युनिटी पुलिसिंग कार्यक्रम के अंतर्गत ग्रामीणों को साड़ी, लुंगी, खेल सामग्री, क्रिकेट किट, व्हालीबाल व बच्चो को कापी, पुस्तक व पेन वितरण किया गया। इस कार्यालय में ग्राम बेचा, कड़ेनार, टेटम एवं आसपास क्षेत्र के महिला-पुरूष ग्रामीणजन बड़ी संख्या में शामिल हुए। शिविर में उपस्थित ग्रामीणों के लिए निःशुल्क भोजन की व्यवस्था की गयी।नक्सल प्रभावित अंतिसवेदनशील ग्राम बेचा में ‘‘कम्युनिटी पुलिसिंग’’ कार्यक्रम का आयोजन

इस कार्यक्रम में नीरज चंन्द्राकर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नारायणपुर, अर्जुन कुर्रे पुलिस अनुविभागीय अधिकारी छोटेडोंगर,  अभिनव उपाध्याय, उप पुलिस अधीक्षक नारायणपुर तथा जिला नारायणपुर, कोण्डागांव व बस्तर के प्रशासनिक एवं विभागीय अधिकारीगण उपस्थित रहें।नक्सल प्रभावित अंतिसवेदनशील ग्राम बेचा में ‘‘कम्युनिटी पुलिसिंग’’ कार्यक्रम का आयोजन नक्सल प्रभावित अंतिसवेदनशील ग्राम बेचा में ‘‘कम्युनिटी पुलिसिंग’’ कार्यक्रम का आयोजन नक्सल प्रभावित अंतिसवेदनशील ग्राम बेचा में ‘‘कम्युनिटी पुलिसिंग’’ कार्यक्रम का आयोजन

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button