छत्तीसगढ़

जिला स्तरीय योग परीक्षा एवं विधिक साक्षरता शिविर आयोजित

मोटर यान अधिनियम के अधीन वाहन स्वामी एवं बीमा कंपनी के मध्य दावा प्रस्तुत किया जा सकता है

राजनांदगांव। सर्वेश्वर दास स्कूल के गांधी सभागृह 26 मई को जिला स्तरीय योग परीक्षा एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। विधिक साक्षरता शिविर में अपर सत्र न्यायाधीश जिला न्यायालयशक्ति सिंह राजपूत ने मोटर-दुर्घटना एक्ट के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि मोटर यान अधिनियम के अधीन वाहन स्वामी एवं बीमा कंपनी के मध्य दावा प्रस्तुत किया जा सकता है।

दावा प्रस्तुत करने के लिए गाड़ी का बीमा, गाड़ी चालक के पास वैध लाइसेंस तथा गाड़ी से संबंधित दस्तावेज होना आवश्यक है। राजपूत ने माता-पिता एवं पालकों को अपनी गाड़ी नाबालिक बच्चों को न दे की अपील की। उन्होंने बताया कि अगर नाबालिक बच्चे गाड़ी चलाकर दुर्घटना पारित कारित करते है तो उस स्थिति में पालकों पर प्रकरण दर्ज दर्ज किया जाता है।

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की सचिव कु. अंजली सिंह ने योगाभ्यास के लाभों के संबंध में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि नियमित योगाभ्यास से शरीर मजबूत बनता है साथ ही आप डिप्रेशन या अवसाद से भी दूर रहत है। शिविर में योग प्रशिक्षक एवं सामाजिक कार्यकर्ता श्री हेमंत तिवारी सहित स्कूलों के बच्चे एवं योग परीक्षार्थी उपस्थित थे।

Tags

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button
%d bloggers like this: