राष्ट्रीय पर्व में संस्कृति के विपरीत कार्यक्रम का आयोजन

हितेश दीक्षित

छुरा।

राष्ट्रीय पर्व पर समूचे देश में शहीदों की यादों पर भिन्न भिन्न कार्यक्रम होते है जो लोगों को देश में सुरक्षा के पर लगे सैनिको व देश के प्रति दिए कुर्बानी को याद किए जाते हैं पर गरियाबंद जिले के फिंगेश्वर जनपद पंचायत के मुख्यकार्यपालन अधिकारी व जनपद के अध्यक्ष और सदस्यों द्वारा देश की कुर्बानी भूल सांस्कृतिक कार्यक्रम में बाहर से आर्केस्ट्रा लाकर लोगों के सामने नाच गाने में प्रेम प्रसंग पर गीत गाते रहे और और इस तरह के आयोजन में बकायदा पूर्व छग मंत्री व राजिम विधायक अमितेष शुक्ल पहुंचे।

साथ साथ जनपद कार्यालय के अधिकारियो और जनप्रतिनिधियों द्वारा देश के राष्ट्रीय पर इस तरह देश भावना को भूल प्रेम प्रसंग द्वारा अश्लील भावनाओ की ओर ले जाने वाले नृत्य करते देखा जिसका आनंद पहुंचे मुख्यातिथि और अधिकारियों द्वारा लिया जा रहा था और देखने वालों लोगो का भीड़ धीरे धीरे कम होने लगा।

इस कार्यक्रम का आयोजन जनपद पंचायत फिंगेश्वर के मुख्यकार्यपालन अधिकारी और जनप्रतिनिधियों द्वारा कार्यलय के परिसर में किया गया था।

इसकी जानकारी मीडिया को लगने पर आए मुख्यातिथि और जनप्रतिनिधियों से जानकारी चाही पर उचीत जवाब नही दे पाए की इस कार्यक्रम का आयोजन किस मद द्वारा किया जा रहा हैं।

क्या कहते है जिम्मेदार

अमितेष शुक्ल विधायक राजिम से इस संबंध में फोन से चर्चा करने पर उन्होंने कहा कि संसार का हर इंसान एक मस्तिस्क का स्वामी होता है सबका अपनी दृष्टि और दृष्टिकोण होता है आप और मैं ही ये निर्धारित नही कर सकते की कौन सा कार्यक्रम अभद्र है और कौन सा कार्यक्रम संस्कार वान।अगर आज का कार्यक्रम अभद्र होता तो आज प्रांगण में माताओं और बहन बेटियों की इतनी अधिक संख्या नही होती।

मैने फिंगेस्वर विकास खण्ड के सचिवो को कड़े शब्दों में निर्देश दिया हूँ कि शासन की संचालित योजनाओं का लाभ अंतिम व्यक्ति तक पहुंचे इस मैं किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नही की करूँगा।

जितेन्द्र साहू अध्यक्ष जनपद पंचायत फिंगेस्वर से चर्चा करने में उन्होंने कार्यक्रम को उचित बताया और कार्यक्रम के आयोजन में किस योजना मद की राशि राशि का उपयोग हुआ है इसकी जानकारी नहीं दे पाए।

1
Back to top button