नवप्रवेशी विद्यार्थियों का ओरियंटेशन कार्यक्रम संपन्न

भूतपूर्व उत्कृष्ठ छात्र-छात्राओं सहित प्रबंधन एवं शिक्षकों ने नवीन छात्र-छात्राओं को मार्गदर्शन करते हुए संबोधित किया।

रायपुर : श्री साई बाबा आदर्श स्नातकोत्तर महाविद्यालय में नवप्रवेशी विद्यार्थियों का स्वागत समारोह एवं ओरियन्टेशन कार्यक्रम राष्ट्रीय सेवा योजना के स्थापना दिवस दिनांक 24 सितम्बर 2021 को संपन्न हुआ। इस अवसर पर आयोजित भव्य कार्यक्रम में संगीतमय प्रस्तुतियों के साथ नवप्रवेशी छात्र-छात्राओं का स्वागत किया गया।

भूतपूर्व उत्कृष्ठ छात्र-छात्राओं सहित प्रबंधन एवं शिक्षकों ने नवीन छात्र-छात्राओं को मार्गदर्शन करते हुए संबोधित किया। ओरियन्टेशन कार्यक्रम के मुख्य अतिथि महाराष्ट्र के सबसे कम उम्र के मुख्य कार्यकारी अधिकारी के रूप में प्रतिष्ठित केतन कपाले उपस्थित थे। अध्यक्षता महाविद्यालय शासी निकाय के अध्यक्ष विजय कुमार इंगोले ने की।

संचालन डॉ. ब्रम्हेष श्रीवास्तव ने मुख्य अतिथि की उपलब्धियों से अवगत कराते हुए उनका परिचय प्रस्तुत करने के पश्चात मुख्य अतिथि के साथ महाविद्यालय शासी निकाय के अध्यक्ष विजय कुमार इंगोले, षिक्षण समिति के सचिव अजय कुमार इंगोले, प्राचार्य डॉ. राजेश श्रीवास्तव, उपस्थित अभिभावकों तथा सभी विभाग प्रमुखों ने दीप प्रज्जवलित कर तथा साई नाथ एवं मां सरस्वती के चित्रों पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया।

दीप प्रज्जवलन के पश्चात महाविद्यालय के शिक्षक-शिक्षिकाओं एंव पूर्व छात्राओं द्वारा सरस्वती वंदना का सस्वर पाठ किया गया तथा इतनी शक्ति हमें देना दाता प्रार्थना का गायन किया गया।

छात्र-छात्राओं का स्वागत

प्राचार्य डॉ. राजेश श्रीवास्तव ने नवप्रवेशी छात्र-छात्राओं का स्वागत करते हुए वर्तमान परिवेश में शिक्षा के स्वरूप एवं महाविद्यालय की विशिष्टताओं से अवगत कराया तथा अम्बिकापुर में श्री साई बाबा आदर्श महाविद्यालय की स्थापना के कारणों पर प्रकाश डालते हुए अंचल के छात्र-छात्राओं एवं अभिभावकों की आवश्यकताओं एवं अपेक्षाओं के अनुरूप उत्कृष्ठ शिक्षण व्यवस्था उपलब्ध कराने की बात कही तथा महावद्यिालय में उपलब्ध विविध सुविधाओं एवं राष्ट्रीय सेवा योजना, रेड क्रॉस, विभिन्न क्लब सोसायटी इत्यादि के माध्यम से संचालित कार्यक्रमों की जानकारी प्रदान करते हुए महाविद्यालय के वृंदगान समूह के साथ ये तो सच है कि भगवान है अभिभावकों को समर्पित गीत प्रस्तुत किया।

महाविद्यालय संचालन समिति के सचिव अजय कुमार इंगोले ने अपने संबोधन में कहा कि आत्मविश्वास एवं सही दिशा का चयन कर हर क्षेत्र मे सफलता प्राप्त की जा सकती है। उन्होने छात्र-छात्राओं को प्रतियोगी वातावरण के अनुरूप स्वयं को ढालने की सलाह भी दी। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि केतन कपाले जी ने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि आप शुरू से ही अपना लक्ष्य निर्धारित करें तथा कॉलेज लाईफ में अपने लक्ष्य को गंभीरता से लेते हुए अभी से अपने लक्ष्य प्राप्ति की ओर अग्रसर हो तभी सफलता प्राप्त होगी।

कला एवं सामाजिक विज्ञान विभाग के प्रमुख डॉ. आर.एन. शर्मा ने कहा कि ज्ञान, बुद्धि एवं अनुभव का सही समन्वय ही शिक्षा है आज विद्यार्थियों को पाठ्यक्रम आधारित शिक्षा के साथ ही व्यवहारिक ज्ञान एवं सीखने की प्रवृत्ति को भी आत्मसात करने की आवश्यकता है। वाणिज्य विभाग के प्रमुख सुमित कुमार डे ने लक्ष्य तक पहुचने के लिए आवश्यक तत्वो आत्मविश्वास, धैर्य, एकाग्रता, कठिन परिश्रम तथा मार्गदर्शन प्राप्त करने की तत्परता की चर्चा करते हुए विद्यार्थी जीवन में सफलता के लिए कडी मेहनत एवं अनुशासन को व्यवहार में लाने पर बल दिया।

प्रतिभावान एवं उच्च शिक्षित व्यक्तियों के लिए रोजगार

विज्ञान विभाग के प्रमुख अरविन्द तिवारी ने देश में प्रतिभावान एवं उच्च शिक्षित व्यक्तियों के लिए रोजगार की बात करते हुए सहजता, सरलता तथा नैतिकता जैसे गुणों को जीवन में उतारने की सीख दी। कम्प्यूटर एवं भौतिक विज्ञान विभाग के शैलेष देवांगन ने छात्र-छात्राओं को आपसी सहयोग एवं समन्वय से लक्ष्य प्राप्ति करने बावत् निर्देशित किया। 2019-20 के सर्वश्रेष्ठ छात्र रहे रोहन राज, छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा परीक्षा के सफलता प्राप्त करने वाले 2017-18 के सर्वश्रेष्ठ छात्र प्रांजल गोयल एवं रासेयो स्वयंसेवक सोफिया खातुन ने भी अपने अनुभव साझा करते हुए नव प्रवेशित छात्र-छात्राओं का मार्गदर्शन एवं स्वागत किया।

प्राचार्य ंद्वारा विद्यार्थियों को उनके लक्ष्य से नहीं भटकने एवं जिम्मेदार आदर्श नागरिक बनने की प्रतिज्ञा कराने के पश्चात महाविद्यालय शासी निकाय के अध्यक्ष विजय कुमार इंगोले ने महाविद्यालय की स्थापना की संकल्पना एवं भविष्यगत योजनाओं से अवगत कराते हुए नवप्रवेषी विद्यार्थियों को आषीर्वाद प्रदान किया। अंत में सभी छात्र-छात्राओं का विभागवार स्वागत किया गया।

कार्यक्रम के दौरान महाविद्यालय के प्राध्यापक देवेन्द्र दास सोनवानी, डॉ. अलका पाण्डेय, दीपश्री बढ़ाईक, श्वेता वर्मा के समूह ने सुमधुर गीतों की प्रस्तुतियां दी। संगीत संयोजन महाविद्यालय के छात्र पल्लव चक्रवती एवं राजेष सोनी द्वारा किया गया। कार्यक्रम का संचालन क्रीडा अधिकारी ब्रम्हेश श्रीवास्तव ने किया।इस अवसर पर सभी प्राध्यापकगण, कर्मचारी नव प्रवेशित छात्र-छात्राऐ,उनके अभिभावक ंएवं वरिष्ठ छात्र-छात्राऐं उपस्थित थे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button