OSCAR 2018: ‘न्यूटन’ नहीं इन दो बॉलीवुड एक्टर्स की फिल्मों ने मारी एंट्री

ऑस्कर अवॉर्ड 2018 की नॉमिनेशन लिस्ट आ गई है. साल 2017 में बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचाने के बाद शेप ऑफ वाटर और डंकर्क ने इस लिस्ट में भी कब्जा है. लेकिन इस लिस्ट में दो बॉलीवुड फिल्म एक्टर्स ने भी बाजी मारी है.

ऑस्कर अवॉर्ड 2018 की नॉमिनेशन लिस्ट आ गई है. साल 2017 में बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचाने के बाद शेप ऑफ वाटर और डंकर्क ने इस लिस्ट में भी कब्जा है. लेकिन इस लिस्ट में दो बॉलीवुड फिल्म एक्टर्स ने भी बाजी मारी है.

एक्टर अली फजल की भूमिका वाली फिल्म ‘विक्टोरिया एंड अब्दुल’ और अनुपम खेर की भूमिका वाली ‘द बिग सिक’ को इस लिस्ट में जगह मिली है.

‘विक्टोरिया एंड अब्दुल’ रानी विक्टोरिया और उनके भारतीय नौकर अब्दुल करीम के अनोखे रिलेशन के बारे में है. इस फिल्म ने बेस्ट कास्ट्यूम डिजाइन और मेकअप के साथ ही हेयरस्टाइलिंग की श्रेणी में पुरस्कार जीतने का मौका है. फिल्म में अली ने अब्दुल का किरदार निभाया है, जबकि रानी विक्टोरिया का किरदार हॉलीवुड की वयोवृद्ध अभिनेत्री जूडी डेंच ने निभाया है.

वहीं अनुपम खेर की ‘द बिग सिक’ को लेखन श्रेणी में नामांकन मिला है, जिसे पाकिस्तानी मूल के कुमैल नानजियानी और एमिली वी. गॉर्डन ने लिखा है.

बता दें कि अमित मासुरकर की फिल्म ‘न्यूटन’ को भारत की तरफ से बेस्ट फॉरेन फिल्म कैटेगरी के लिए नामित गया था. लेकिन फिल्म टॉप लिस्ट में जगह नहीं बना पाई थी.

ऑस्कर जाने वाली दूसरी भारतीय फ़िल्में

विदेशी भाषा कैटेगरी में ‘न्यूटन’ से पहले अपुर संसार (1959), गाइड (1965), सारांश (1984), नायकन (1987), परिंदा (1989), अंजलि (1990), हे राम (2000), देवदास (2002), हरिचन्द्र फैक्ट्री (2008), बर्फी (2012) और कोर्ट (2015) शामिल है.

केवल तीन भारतीय फ़िल्में ही फाइनल लिस्ट तक पहुंची. इनमें महबूब खान की मदर इंडिया (1957), मीरा नायर की सलाम बॉम्बे (1988) और आशुतोष गोवारिकर की लगान (2001) शामिल है.

1
Back to top button