परमाणु विस्फोटों की निगरानी में शामिल होगा भारत

CTBTO में पर्यवेक्षक बनने का न्योता

वियना : व्यापक परमाणु-परीक्षण-प्रतिबंध संधि संगठन (CTBTO) ने भारत को ‘पर्यवेक्षक’ का दर्जा देने और अंतरराष्ट्रीय निगरानी प्रणाली (IMS) डाटा तक पहुंच मुहैया कराने की पेशकश की है।

ऑस्ट्रिया के वियना स्थित CTBTO मुख्यालय में भारतीय पत्रकारों के एक समूह से कार्यकारी सचिव लैसीनो जेर्बो ने कहा, ‘मैं भारत से पुष्टि (संधि) करने के लिए नहीं कह रहा हूं। मुझे पता है कि फिलहाल यह संभव नहीं है, लेकिन मैं समझता हूं कि भारत को एक पर्यवेक्षक के रूप में शामिल होने का मौका देना शुरुआत के लिए एक बेहतर स्थिति हो सकती है।’

CTBTO अंतरराष्ट्रीय निगरानी प्रणाली (IMS) चलाता है जो लगातार परमाणु विस्फोटों के लिए पृथ्वी की निगरानी करता है और अपने सदस्य राज्यों के साथ निष्कर्ष साझा करता है। मौजूदा समय में IMS के पास 89 देशों में फैले 337 केंद्र हैं।

जेर्बो ने कहा, ‘मैं समझता हूं भारत को डाटा से बहुत लाभ मिलेगा, जिस तक अभी उसकी पहुंच नहीं है। अब आप भूकंप की निगरानी और रेडियो विकिरण फैलाव की स्थिति जानने के लिए गुणवत्तापूर्ण आवश्यक डाटा प्राप्त कर सकते हैं।’

Back to top button