छत्तीसगढ़बड़ी खबरराजनीति

सरकार ने निजी प्रिंटिंग प्रेसों में छपवाया मतपत्र-पूर्व मंत्री मूणत

आज हमारा संदेह सही निकला, सरकार ने निजी प्रिंटिंग प्रेसों में मतपत्र छपाया है. न उन प्रेसों में कोई सुरक्षा के इंतजाम हैं न उन्हें मान्यता है.

रायपुर: पूर्व मंत्री राजेश मूणत ने आज प्रेस कांफ्रेंस लेकर सरकार पर कई गंभीर आरोप लगाये. उन्होंने कहा कि निर्वाचन आयोग निर्वाचन प्रक्रिया शुरू कर समाप्ति की ओर बढ़ रहा है. हमने ईवीएम के माध्यम से मतदान कराने की मांग की थी. जब से मतपत्रों के माध्यम से चुनाव कराने की घोषणा की गई थी, तब से भाजपा आपत्ति कर रही थी.

आज हमारा संदेह सही निकला, सरकार ने निजी प्रिंटिंग प्रेसों में मतपत्र छपाया है. न उन प्रेसों में कोई सुरक्षा के इंतजाम हैं न उन्हें मान्यता है. अभी तक मतपत्र सरकारी प्रिंटिंग प्रेस में छपते रहे हैं लेकिन इस बात निजी प्रेसों में प्रकाशन कराया जा रहा है. किस प्रेस को कितना पेपर आबंटित हुआ, कितना पेपर आया और बचे हुए पेपर का क्या उपयोग हुआ इसकी जानकारी देनी चाहिए.

सरकारी तंत्र का दुरुपयोग कर कांग्रेस गलत ढंग से नगरीय निकायों में कब्जा करना चाहती है. सुरक्षा का विषय हो या बैलेट की सुरक्षा का मामला हो इससे खिलवाड़ नहीं किया जाना चाहिए. 10 प्रतिशत मार्जिन मनी लेकर टेंडर जारी किया गया है. सरकारी प्रेस में छापना चाहिए था. इसके लिए नाॅर्म्स का भी निर्धारण किया जाना चाहिए.

भारतीय जनता पार्टी ने नगरीय निकाय चुनाव की निष्पक्षता को लेकर सवाल उठाया है. पूर्व मंत्री राजेश मूणत ने प्रेस कॉन्फ्रेंस लेकर जानकारी दी कि अब तक सरकारी प्रेसों में ही मतपत्र छापा जाता था. इस बार बगैर किसी सुरक्षा इंतजामों के निजी प्रेसों में भी मतपत्र छापे जा रहे हैं.

Tags
Back to top button