वित्तीय वर्ष-2018-19 की तीसरी तिमाही तक शक्ति पंप्स का उत्कृष्ट प्रदर्शन

वित्तीय वर्ष-2018-19 की तीसरी तिमाही तक शक्ति पंप्स का उत्कृष्ट प्रदर्शन

मुम्बई : भारत की ऊर्जा कुशल (एनर्जी एफिशिएंट) पम्प्स तथा सौर ऊर्जा समाधानों के क्षेत्र में अग्रणी, शक्ति पम्प्स इंडिया लिमिटेड, ने 31 दिसम्बर 2018 को समाप्त 9 माह की वित्तीय अवधि में शानदार वित्तीय प्रदर्शन की उद्घोषणा की। पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में कम्पनी के राजस्व में इस वर्ष 26 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज करते हुए वित्तीय वर्ष 2018-19 के 9 माह की अवधि में 389.35 करोड़ रुपये के पैमाने को छुआ।

यह आंकड़ा वित्तीय वर्ष 2017-18 की समान अवधि में दर्ज 307.68 करोड़ रुपये की तुलना में अधिक रहा। कंपनी ने इस वर्ष तीसरी तिमाही में 152.16 करोड़ रुपये का राजस्व दर्ज किया जो कि पिछले वर्ष की समान तिमाही में 148.67 करोड़ रुपये था। नौ माह की अवधि के समाप्त होने तक ईबीआईडीटीए (EBIDTA) 14 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 63.76 करोड़ रुपये दर्ज किया गया जो कि पिछले वर्ष की इसी अवधि के दौरान 56.17 करोड़ था।

प्रॉफिट आफ्टर टैक्स (पीएटी) 17 प्रतिशत बढ़कर 28.91 करोड़ रुपये पर पहुंचा जो कि पिछले वर्ष की इसी अवधि के दौरान 24.74 करोड़ रुपये था। ग्रामीण, कृषि तथा औद्योगिक कस्टमर्स में एनर्जी एफिशिएंट पम्प्स तथा सौर ऊर्जा समाधानों की मांग बढ़ने के कारण कंपनी की निरन्तर उत्कृष्ट प्रदर्शन देने में सफल रही है।

इन अच्छे परिणामों के बारे में बात करते हुए दिनेश पाटीदार चेयरमैन एवम मैनेजिंग डायरेक्टर, शक्ति पम्प्स (इंडिया) लिमिटेड ने कहा ग्राहकों को केंद्र में रखने पर खास ध्यान देने तथा एनर्जी एफिशिएंट एवम नवीनीकृत ऊर्जा की ओर ले जाने वाले समाधानों के जरिये किये गए कार्यों के साथ पिछले 9 माह के दौरान हमारा प्रदर्शन हमारी अग्रणी स्थिति को मजबूती देता है।

हमें विश्वास है कि हाल में सरकार द्वारा उद्घोषित विभिन्न शासकीय उपायों, योजनाओं के साथ ग्रामीण और सौर (रिन्यूएबल) ऊर्जा के क्षेत्र में मांग निरन्तर और बढ़ेगी। इस सेग्मेंट के लीडर होने के नाते, हम वृद्धि के अवसरों तक पहुंचने को लेकर आश्वस्त हैं जो कि हमारे प्रदर्शन को निरन्तर बनाये रखने में सहायता प्रदान करेगा।
ताज़ा हिंदी खबरों के साथ अपने आप को अपडेट रखिये, और हमसे जुड़िये फेसबुक और ट्विटर के ज़रिये

Back to top button